आज भारत ‘एक देश, एक सुविधा’ की ओर आगे बढ़ रहा है : नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के द्वारका में आयोजित विशाल जन-सभा को संबोधित किया और दिल्ली की जनता से प्रदेश की भलाई के लिए भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का आह्वान किया। श्री मोदी ने कहा कि मतदान से चार दिन पहले भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में ऐसा माहौल कई लोगों की नींद उड़ा रहा है। लोगों के उत्साह, उमंग और भाजपा को मिल रहे समर्थन से यह स्पष्ट हो गया है कि 11 फरवरी को दिल्ली में कमल खिलने वाला है। दिल्ली को बदलने के लिए और राष्ट्रहित के भाव को बुलंद रखने के लिए मैं दिल्ली की जनता के इस जोश और जुनून को मैं नमस्कार करता हूं। ये दशक भारत का दशक होने वाला है और भारत की प्रगति के लिए आज के लिए पहलें निर्भर करती हैं। आज एक पक्ष इन फैसलों को लेने वाला पक्ष है और दूसरी तरफ इन फैसलों के खिलाफ उठाया विपक्ष है।आज देश की राजधानी को 2030 की दिल्ली का रास्ता दिखाना है। यह आपको 8 फरवरी को करना है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जो गरीब का हित चाहेगा उन गरीबों की सरकार की योजनाओं से वंचित करने का पाप कभी नहीं होगा जबकि दिल्ली प्रदेश की सरकार ने न तो आयुष्मान भारत योजना लागू होने दी, न प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ किसानों को लेने दिया। न ही प्रधानमंत्री आवास योजना ही दिल्ली में लागू होने दी। मेट्रो के चौथे चरण के विस्तार को दो साल तक प्रदेश सरकार द्वारा मंजूरी तक नहीं दी गई।

श्री मोदी ने कहा कि आज दिल्ली की जनता देख रही है कि कैसे दिल्ली में सिर्फ स्वार्थ की, नफरत की राजनीति की गई है। देश की राजधानी का विकास 21 वीं सदी की अपेक्षाओं-आकांक्षाओं के मुताबिक होना चाहिए लेकिन ये तभी संभव हो सकता है जब नकारात्मकता की राजनीति बंद हो और राजनीति के मूल में देशवासियों का हित हो, राष्ट्रहित हो। ये काम केंद्र में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार कर रही है। पिछले पांच साल में केंद्र सरकार ने जिस गति से, जिस पैमाने पर काम किया है, वह उत्साहपूर्ण है। स्वतंत्रता के बाद से देश में इतनी तेज गति से कभी काम नहीं हुआ।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत जैसे बड़े देश में, विशाल देश में इसी गति से काम हो सकता है। देश की राजधानी दिल्ली को भी काम की यही गति चाहिए। यही कारण है कि दिल्ली के लोगों ने लोकसभा चुनाव के समय भाजपा पर विश्वास दिखाया, अब इसी विश्वास के बल पर दिल्ली वाले कह रहे हैं- देश बदल गया, अब …. दिल्ली बदनसीब होगा !!

श्री मोदी ने कहा कि दिल्ली को ऐसी सरकार भी चाहिए जो समय आने पर देश के पक्ष को मजबूत करे, हमारे वीर सैनिकों के साथ खड़ी हो। दिल्ली को ऐसी राजनीति नहीं चाहिए, जो आतंकी हमलों के समय में भारत के पक्ष को कमज़ोर करे, जो अपने बयानों से दुश्मन को भारत पर वार करने का मौका दे। सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक जैसे फैसलों के बाद किस तरह के बयान आए, क्या कोई भूल सकता है? उन्होंने कहा कि दिल्ली में ऐसा नेतृत्व होना चाहिए जो सीएए, आर्टिकल -370 जैसे राष्ट्रीय सुरक्षा के तमाम फैसलों पर देश का साथ दे। अपनी तुष्टिकरण की राजनीति के लिए लोगों को भड़काने वाले दिल्ली का हित कैसे करेंगे? ये लोग बाटला हाउस के आतंकवादियों के लिए रो सकते हैं, उनका साथ देने के लिए सुरक्षाबलों को कठघरे में खड़ा कर सकते हैं लेकिन दिल्ली का विकास नहीं कर सकते।

प्रधानमंत्री ने कहा कि सिटिजनशिप संशोधन कानून बनने के बाद देश और दिल्ली की जनता पहले दिन से देख रही है कि कैसे इन लोगों द्वारा अफवाहें फैलाई जा रही हैं, लोगों से झूठ बोला जा रहा है। मैं अब से कुछ देर पहले मीडिया में देख रहा था। दिल्ली को अस्थिर करने की इनकीसंख्या से जुड़ा आज एक और खुलासा हुआ है। ये लोग अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं से सारा ड्रामा करवा रहे हैं। मैं ड्रामा इसलिए कह रहा हूं क्योंकि सब कुछ पहले से तय है, स्क्रिप्टेड है, कोरियोग्राफ्ड है। कभी पथराव, कभी आगजनी, कभी पिस्तौल, पूरी कोशिश की जा रही है दिल्ली को बदनाम करने की, देश को अपमानजनक करने की। इसलिए मैंने कल कहा था- ये संयोग नहीं है। अब तो ये प्रयोग करने वाले और उनके मोहरे, दोनों की कलई खुल चुकी है। दिल्ली की जनता सब देख रही है, सब समझ रही है। उन्होंने कहा कि वोटबैंक की राजनीति, नफरत की राजनीति, गलत इरादों और गलत नीयत के साथ दिल्ली का विकास नहीं किया जा सकता है। विकास के लिए दृढ़ इच्छाशक्ति, खुद को सेवक मानकर गरीब की सेवा करने की भावना, अपने संकल्पों को सिद्ध करने का हौसला होना चाहिए। अगर बहनों और कोसने से ही काम चलता है, तो हमारी सरकार वो कड़े और बड़े फैसले ले पाती, जो बीते 5 साल में चला गया?

श्री मोदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार की इच्छाशक्ति के कारण ही दिल्ली की 1700 से अधिक अवैध कॉलोनियों में रहकर 40 लाख लोगों को अपने घरों का मालिकाना हक मिल गया जबकि दिल्ली की प्रदेश सरकार तो इन कोशिशों में थी कि कोई तरह और एक दो साल के लिए ये मामला टाल दिया जाए। अब दिल्ली भाजपा ने ये भी संकल्प लिया है कि इन तमाम कॉलोनियों के विकास के लिए अलग से एक बोर्ड बनाया जाएगा। कॉलोनीज़ डेवलपमेंट बोर्ड बनाया जाएगा। यह बोर्ड इन 1700 कॉलोनियों में आवश्यक सुविधाएं पहुंचाने के लिए काम करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली में 21 वीं सदी का आधुनिक से आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर हो, ट्रांसपोर्ट का आधुनिक सिस्टम हो, यहां के लोगों को आधुनिक टेक्नोलॉजी का पूरा लाभ मिले, यहां के लोगों के पास सभी बुनियादी सुविधाएं मौजूद हों, स्वच्छ पानी हो, स्वच्छ हवा हो। , ये हमारी सरकार की प्राथमिकता है। हम जो संकल्प लेते हैं, वह सिद्ध करते हैं, ये हमारी सरकार की पहचान है।

श्री मोदी ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार ने दिल्ली में रिकॉर्ड समय में ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरिफिरल एक्सप्रेसवे का काम पूरा किया का काम कितने साल से चल रहा था। इसी तरह अक्षरधाम, मयूर विहार के पास दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे का काम हुआ है। अब रैपिड रेल सिस्टम पर भी तेजी से काम चल रहा है। दिल्ली मेट्रो से अटल जी का नाम जुड़ा हुआ है। अटल जी के बहुत प्रयासों के बाद ही दिल्ली में मेट्रो शुरू हो पाई गई थी। अब हमारी सरकार का प्रयास दिल्ली में मेट्रो के विस्तार को बढ़ाने और बढ़ाने का है। बीते 5 वर्ष में लगभग सवा सौ किलोमीटर नई मेट्रो रेल और 80 किलोमीटर से अधिक के आरआरटीएस स्वीकृत किए गए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यमुना को स्वच्छ बनाने से जुड़ी परियोजनाओं के साथ ही हमारी सरकार यमुना रिवर यूनिट पर भी काम कर रही है। ये रेवार 21 वीं सदी में दिल्ली की शान बनेगा। ये दिल्ली के लोगों के लिए नए आइकोनिक स्पॉट ही नहीं बल्कि ग्रीन कॉरिडोर का, शहर के लुंग में भी काम करेगा। इंडिया गेट हो, लाल किला हो, देश की संसद हो, नॉर्थ ब्लॉक हो, साउथ ब्लॉक हो, ये सभी की भव्यता को गया हो।] लाल किले के पास अब नेताजी सुभाष चंद्र बोस को समर्पित क्रांति मंदिर मुहजियम का भी निर्माण हुआ है। इसके साथ ही अब लाल किले में बहुत ही भव्य भारत-पर्व का भी आयोजन होता है। पुरानी धरोहरों में नयापन लाने के साथ ही नई धरोहरों को भी विकसित किया जा रहा है। इंडिया गेट के पास ही भव्य नेशनल वॉर मेमोरियल बनाया गया है और दिल्ली में ही नेशनल पुलिस मेमोरियल का निर्माण हुआ है। सुंदर नर्सरी हो या फिर 12 एकड़ में फैला दीन दयाल उपाध्याय पार्क, आज दिल्ली में पर्यटकों के लिए ये पसंदीदा स्थान बनते जा रहे हैं। द्वारका में ही दो बड़े प्रोजैक्ट चल रहे हैं। एक भारत वंदना पार्क का निर्माण शुरू हो चुका है। देश जब आजादी के 75 वर्ष 2022 में मनाएगा, तब तक ये पार्क तैयार हो जाएगा। इस पार्क में पूरे देश की कला, संस्कृति, खान-पान का अनुभव यहाँ आने वाला पर्यटक कर पाएगा। इसी तरह यहीं पर एक वर्ल्ड क्लास कन्वेंशन सेंटर भी बन रहा है जहां दुनिया भर के लोगों को बिजनेस के लिए, एग्जिबिशन के लिए सुविधा मिलेगी। ये तमाम कदमों से यहां दिल्ली की सुंदरता तो बढ़ा ही रही है, युवाओं के लिए रोज़गार का निर्माण भी हो रहा है। खान-पान का अनुभव यहाँ आने वाला पर्यटक कर पायागा। इसी तरह यहीं पर एक वर्ल्ड क्लास कन्वेंशन सेंटर भी बन रहा है जहां दुनिया भर के लोगों को बिजनेस के लिए, एग्जिबिशन के लिए सुविधा मिलेगी। ये तमाम कदमों से यहां दिल्ली की सुंदरता तो बढ़ा ही रही है, युवाओं के लिए रोज़गार का निर्माण भी हो रहा है। खान-पान का अनुभव यहाँ आने वाला पर्यटक कर पायागा। इसी तरह यहीं पर एक वर्ल्ड क्लास कन्वेंशन सेंटर भी बन रहा है जहां दुनिया भर के लोगों को बिजनेस के लिए, एग्जिबिशन के लिए सुविधा मिलेगी। ये तमाम कदमों से यहां दिल्ली की सुंदरता तो बढ़ा ही रही है, युवाओं के लिए रोज़गार का निर्माण भी हो रहा है।

श्री मोदी ने कहा कि दिल्ली की 80 हजार गरीब महिलाओं को हमारी सरकार ने मुफ्त गैस कनेक्शन दिया है। उजाला योजना के तहत बांटे गए एलईडी बल्ब की वजह से अब हर घर में बिजली की खपत कम हुई है। इससे लगभग-लगभग 700 करोड़ रुपये दिल्ली के लोगों का सालाना बच रहा है। बहुत ही नहीं, अलग-अलग योजनाओं के तहत बीते चार-पांच वर्षों में केंद्र सरकार ने दिल्ली के लोगों के बैंक खातों में लगभग 10 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर किए हैं। इसमें से 3 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा दिल्ली के लोगों को सस्ते गैस के लिए दिए गए हैं। दिल्ली के बुजुर्गों को, दिव्यांगजनों को लगभग 450 करोड़ रुपए उनके बैंक खाते में दिए गए हैं। सरकार के इन प्रयासों का लाभ यहां के गरीबों को, मध्यम वर्ग को, टैक्सी वालों को, ऑटो वालों को, घरों में काम करने वाले हमारे भाई-बहनों को, सभी को मिला है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीब को सशक्त करना, गरीब की चिंता दूर करना और मुश्किल समय में उसके साथ खड़े रहना केंद्र की हमारी भाजपा सरकार की संवेदनशीलता को दिखाता है। हमारे देश में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के बारे में कभी चर्चा नहीं होती थी। ये हमारी ही सरकार है जिसने ऐसे साथियों के लिए 60 वर्ष की आयु के बाद 3 हज़ार रुपए की नियमित पेंशन की सुविधा शुरू की है। यही नहीं आज किसानों को, खेत मजदूरों को, छोटे दुकानदारों को भी 3 हज़ार रुपए तक मासिक पेंशन देने की योजना चल रही है। पेंशन ही नहीं, 2-2 लाख रुपए का दुर्घटना और जीवन बीमा भी ऐसे परिवारों को सुनिश्चित किया गया है। ऐसे निर्णय ही एक संवेदनशील और संगठित समाज के संस्कार मजबूत करता है।

श्री मोदी ने कहा कि आज भारत ‘एक देश, एक सुविधा’ की ओर आगे बढ़ रहा है। एक देश एक राशन कार्ड से दिल्ली के गरीबों को बहुत लाभ मिलेगा। इसका बहुत बड़ा लाभ दिल्ली के उन गरीबों को भी मिलेगा जो दूसरे राज्यों से यहां रोजी-रोटी के लिए आते हैं। एक देश एक टैक्स यानि GST ने भी सामान्य जरूरत की लगभग 99 प्रतिशत चीजों के दाम कम किए हैं। ऐसे ही सरकार ने Fastag Card की सुविधा भी शुरु की है। इससे हाईवे पर टोल प्लाज़ा में जो जाम लगता था, वो कम हो रहा है। अब हम ‘एक देश, एक कार्ड’ की व्यवस्था की तरफ भी बढ़ रहे हैं जिसमें मेट्रो से लेकर शॉपिंग तक का एक ही कार्ड होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब सही मायने में व्यवस्था परिवर्तन का जज्बा मन में होता है, तो बड़े संकल्प सिद्ध होने लगते हैं। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान से देश के शैक्षणिक संस्थानों में बेटियों के नामांकन का अनुपात अब लड़कों से अधिक हो गया है। आर्थिक रूप से कमज़ोर परिवार की बेटी को साइकिल और इलेक्ट्रिक स्कूटी देने का वायदा बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के संकल्प को और मजबूत करने वाला है। इसके अलावा परिवार की पहली दो लड़कियों को 21 साल की आयु में 2 लाख रुपए मिले, ये संकल्प भी केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना को विस्तार देगा।

श्री मोदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जब कोई संकल्प लेती है तो उसे जल्द ही पूरा करने का प्रयास करता है। हम पिछले 6 महीने का इंतजार नहीं करते। इसलिए, दिल्ली को सुरक्षित बनाने के लिए, अराजकता और हिंसा से मुक्ति दिलाने के लिए, 21 वीं सदी की विश्व स्तरीय राजधानी बनाने के लिए आपको कमल के निशान पर बटन दबाना है। याद रखिए, 8 फरवरी को छुट्टी नहीं है, राष्ट्रविरोधी राजनीति करने वालों की छुट्टी करने का दिन है।

 

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *