पूर्वांचल विकास समिति के संरक्षण में बचा हुआ है माडोडी तलाब: शकर सिंह

पुर्वांचल छट पूजा समिति के सदस्यों की मेहनत से सुरक्षित है माडोडी तलाब, समय-समय पर तलाब में नमक,चुना ओर अन्य  कीटनाशक  दवाइया  आदि डालते रहते है ।इसमे सभी स्थानीय निवासियों का भरपूर सहयोग मिलता है, यह कहना था पुर्वांचल छट मैया पूजा समिति के अध्यक्ष शंकर सिंह का ।   छतरपुर विस्तार छेत्र 100 फूटा रोड, के वन छेत्र में कई एकड़ में फैले मडुडी तलाब ,में जहाँ कालोनियों का बेकार पानी आकर गिरता है ,लेकिन इस तलाब की ओर सरकार जरा भी ध्यान नही दे रही।उनका कहना हैकि ,हम पुर्वांचल निवासी  पिछले 29 सालों से छट पूजा  करते आ रहे हैं। इस तालाब की देख रेख भी हम सभी लोग मिलकर करते हैं। स्वच्छ भारत के तहत भी हमने यहाँ मिलकर सफाई अभियान चलाया था, आस पास के लोगो को तालाब की देख रेख,ओर सफाई व्यवस्था का पूरा ख्याल रखने की भी पुरजोर  अपील की जाती है।
  छट का महा पूर्व भगवान सूर्य को अर्ध जल देकर पूजा का प्रारम्भ होता है और महिलाये खासकर अपने परिवार के लिए तीन दिनों का निर्जल व्रत रखती है | हम सभी मिलजूल कर पिछले 29 सालों से छट का महापर्व मना रहे हैं। सभी के सहयोग से सोहार्दय पूर्ण  त्यौहार मनाते आ रहे है ,साथ ही माडोडी तलाब पर अस्थाई घाट भी बनाये गये है ।,यहाँ 20000 लोगो ने इस पावन त्यौहार को मनाया ओर पूजा अर्चना की ।
  समिति अध्यक्ष शंकर सिंह ने कहा कि तालाब की देख रेख हमें करनी पड़ती है ।सरकार का रवैया ठीक नही ,हमने सभी जनप्रतिनिधियों को मिलकर ओर खत के द्वारा अवगत भी कराया है ,लेकिन किसी ने भी इस तलाब के साथ साथ यहाँआस पास बढ़ते अतिक्रमण का भी ख्याल नही रखा।
    हमारी मांग है कि इस तालाब का कुछ हिस्सा छट मईया की पूजा के लिए नियमित घाट बना कर पक्का किया जाए,।शंकर सिंह ने आरोप लगाया की सभी जनप्रतिनिधियों को पत्र  लिख कर भी अवगत कराया है परंतु किसी ने भी इस ओर ध्यान नही दिया केवल राजनीति और वोट लेने के लिए तालाब का ध्यान आता है।
Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *