उत्तराखंड के आधे से ज्यादा क्वॉरेंटाइन सेंटर साधनविहीन

पौडी गढवाल ।आज देश सहित पूरा विश्व कोविड -19 महामारी से जूझ रहा उत्तराखंड के यूं तो पहाड़ो के ज्यादातर सरकारी विद्यालय एवं पंचायत भवनों की दुर्दशा किसी से छुपी नही फिर सरकार ने कवारेंटाइन करवांने की ब्यवस्था ग्राम प्रधान एवं क्षेत्र के नोडल अधिकारी आगनबाड़ी के भरोसे छोड़ रखा है। कवारेंटाइन सेंटर अधिकतर साधनविहीन हैं। पौडी जिले में अब तक कवारेंटाइन सेंटरो में 6 लोगो की मौत भी हो चुकी है।

कोरोना बैश्विक बीमारी के बचाव एवं सक्रमण रोकने के लिए सरकार की गाइड लाइन के मुताविक बाहर से आने वाले प्रवासियों को होम कवारेंटाइन एवं संस्थागत कवारेंटीन सेंटरो रखाया जा है। जो अपनी निजी गाड़ियों में आ रहे वह अधिक तर होम कवारेंटाइन हो रहे है।जो साधरण परिवार उन्हें सरकारी स्कूलों में कवारेंटाइन किया जा रहा है। हमारे सवाददाता जगमोहन डांगी कई कवारेंटाइन सेंटरो में गए उनकी पहली रिपोर्ट प्राथमिक विद्यालय डांगी जो गांव से काफी दूर एकांत में है। वह उन्होंने एक महिला एवं उसके छोटे छोटे बच्चों से बात की जिनके साथ रात को रहने परिजन सुरक्षा एवं सहयोग के लिए रोज आना पढ़ता है। दिखिए विशेष रिपोर्ट अगली एक रिपोर्ट के साथ हम फिर हाजिर होंगे।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *