मनरेगा के तहत प्रत्येक ग्राम पंचायत में काम करवाना सुनिश्चित करें—डाँ.विजय कुमार जोगदण्डे

पौड़ी:। पौडी जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार पौड़ी में मनरेगा एवं विधायक निधि के अन्तर्गत स्वीकृत कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

बैठक में मनरेगा के तहत जॉब कार्ड, टाइमली पेमेंट, जीआईएस बेस्ड प्लान प्रोग्रेस, आधार सीडिंग, मस्टर रोल, कृषि एण्ड एनआरएम, मनरेगा वर्कस एकाउंट, सीएलएफ/फार्म लावलीहुड, आजीविका पैकेज आदि की प्रगति रिपोर्ट एवं विधायक निधि के अन्तर्गत स्वीकृत कार्यों के सापेक्ष अद्यतन किये गये कार्यों की प्रगति के संबंध में विस्तार से समीक्षा की गई। जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने मनरेगा के तहत (व्यक्ति दिवस प्रगति में) कम प्रगति वाले विकास खण्ड कोट, एकेश्वर, कल्जीखाल, रिखणीखाल व थलीसैंण के बीडीओ का तथा (वर्क कम्पलीशन रेट एवं आधार कार्ड में) कम प्रगति वाले विकास खण्ड बीरोंखाल, दुगड्डा, रिखणीखाल, कोट व जयहरीखाल के बीडीओ एवं डीपीओ का स्पष्टीकरण तलब किया गया।
मनरेगा की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने न्यूनतम प्रगति वाले विकास खण्डों के प्रति कड़ी नाराजगी जहिर करते हुए संबंधित खण्ड विकास अधिकारियों को अपने- अपने दायित्वों पर विशेष ध्यान देते हुए लक्ष्य के सापेक्ष समय से शत- प्रतिशत कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देशित किया कि जिन विकास खण्डों की प्रगति रिपोर्ट 50 प्रतिशत से कम है, वह कार्यों में प्रगति लाते हुए 15 जुलाई, 2021 तक 50 प्रतिशत से अधिक की प्रगति लाना सुनिश्चित करें तथा अन्य विकास खण्ड भी सुधार लाते हुए 100 प्रतिशत करना सुनिश्चित करें अन्यथा संबंधित के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। उन्होंने समस्त विकास खण्ड अधिकारियों को निर्देशित किया कि विकास खण्ड स्तर पर कार्यरत कार्मिकों के कार्यों की (लक्ष्य/ प्रगति) साप्ताहिक प्रगति रिपोर्ट भी भेजना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने आजीविका पैकेज के अन्तर्गत शासनादेशानुसार कार्य करने के निर्देश दिये तथा सभी बीडीओ को आज ही पौधा रोपण हेतु पौधों की मांग करने को कहा। जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने कहा कि मनरेगा के तहत कम प्रगति वाले विकास खण्ड प्रगति लाते हुए परसनडेज प्रोग्रेस 15 जुलाई तक बढ़ाना सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्देश दिये कि मनरेगा के तहत प्रत्येक ग्राम पंचायत में काम करवाना सुनिश्चित करें। कहा कि जॉब कार्ड वेरिफिकेशन 100 प्रतिशत हो।
मनरेगा के तहत जॉब कार्ड वेरिफिकेशन में कम प्रगति वाले विकासखण्ड कोट, रिखणीखाल व जयहरीखाल की कम प्रगति का कारण तकनीकी समस्या बताया गया। अवगत कराया गया कि मेरा गांव, मेरी सड़क योजना के अन्तर्गत खिर्सू (चोपड़ा) का कार्य 30 तक पूर्ण हो जायेगा।
विधायक निधि के अन्तर्गत स्वीकृत कार्यो के सापेक्ष की गई प्रगति की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो कार्य पूर्ण हो चुके हैं उनकी एमबी, यूसी, फोटोग्राफ्स, डिमान्ड आदि सभी डॉक्यूमेंट कम्पलीट कर फाईल भेजना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने शिक्षा विभाग, जिला पंचायत राज विभाग, नगर पंचायत स्वर्गाश्रम (जौंक), नगर पंचायत थलीसैंण, सिंचाई व भूमि संरक्षण कोटद्वार के अधिकारियों से क्रमवार विधायक निधि के अन्तर्गत स्वीकृत कार्यों की प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि विधायक निधि के अन्तर्गत किये जा रहे कार्यों को लेकर ग्राम प्रधान एवं प्रधानाचार्य से समन्वय स्थापित कर अपने स्तर से कार्य पूर्ण करवाना सुनिश्चित करें। सभी बीडीओ को निर्देशित किया गया कि योजना के तहत कितने काम हो गये हैं व कितने काम और होने हैं सभी का विवरण बनाकर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने सभी बीडीओं को निर्देशित किया कि दो साल से अधिक के प्रकरण लम्बित नहीं होने चाहिए। उन्होंने कार्यों हेतु संबंधित को एक माह का समय देते हुए स्पष्टीकरण देकर विवादित प्रकरण को वापस करायें। उन्होने कहा कि अपने रहते- रहते अपने सभी कार्य पूर्ण करवाना सुनिश्चित करायें। जिला पंचायत राज अधिकारी एवं शिक्षा अधिकारी प्राथमिकता के आधार पर स्वीकृत कार्यों का रिव्यू कर लें और फाइल पूरी करने में मदद करें।
मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि मनरेगा के तहत किये जा रहे कार्यों को पैरामीटर देखकर कार्य करें और समय-समय पर समीक्षा करें। कहा कि कार्यों में प्रगति लायें और विधायक निधि में पेंडिंग कार्य को पूर्ण करें। कहा कि कनवर्जनस में भी कार्य करना है। नियमित रूप से समीक्षा भी करते रहें।
मुख्य कृषि अधिकारी ने बताया कि आई एम विलेज में प्रत्येक माह समीक्षा हो रही है। इसके तहत सभी खण्ड विकास अधिकारी मनरेगा में रखी कार्ययोजना प्रगति की रिपोर्ट भी दें। मुख्य उद्यान अधिकारी ने कहा कि सभी पौधा रोपण हेतु पौधों की डिमान्ड भेज दें। जिला पंचायत राज अधिकारी द्वारा ग्राम संभा को जीवंत करने संबंधी जीओ, आजादी का अमृत महोत्सव व सिटीजन चार्टेड के बारे में जानकारी दी गई।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, मुख्य कृषि अधिकारी डी.एस.राणा, मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ. नरेन्द्र कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी एम.एम. खान, जिला शिक्षा अधिकारी बेसिक के.एस. रावत, एएमए जिला पंचायत संतोष खेतवाल, खण्ड विकास अधिकारी सुमनलता, आर.एस.नेगी, एस.पी. थपलियाल, डी.सी. पन्त, दिनेश प्रसाद बडौनी, एन.सी.सुयाल, सत्यप्रकाश, ओमप्रकाश, प्रवीण भट्ट, जयेन्द्र भारद्वाज, संतोष सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *