सबको सुरक्षा, सबको सम्मान – यह हमारा संकल्प है : मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और मुरादाबाद में विशाल और ऐतिहासिक जन-सभाओं को संबोधित किया और जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण की राजनीति करने के लिए सपा-बसपा और कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए उन पर कई हमले किये। श्री मोदी ने कहा कि आप सभी लोगों के सहयोग से बाबा साहब के बताए रास्ते पर चलने का इस चौकीदार ने प्रयास किया है, सबका साथ, सबका विकास के मंत्र पर सरकार चलाई है। उज्जवला योजना के तहत मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया है तो इसका लाभ सबको हुआ है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीबों को घर दिए जा रहे हैं, तो इसका फायदा भी सबको हुआ है। सौभाग्य योजना के तहत बिजली का कनेक्शन भी हर परिवार को मिला है, चाहे वो किसी भी जाति का हो। हमने जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति का अंत कर पॉलिटिक्स ऑफ़ परफॉरमेंस की राजनीति का एक नया अध्याय शुरू किया है। पहले 2014 में और फिर 2017 में आपने इस चौकीदार को भरपूर समर्थन और सहयोग दिया है। यह आपके इसी प्यार और सहयोग का परिणाम है कि आज पूरी दुनिया में भारत का डंका बज रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने बाबा साहब के बताए रास्ते पर तो काम किया ही है, उनको देश के इतिहास में वह सम्मान देने का भी प्रयास किया है, जिनके वे हकदार थे। बाबा साहब से जुड़े 5 स्थानों को हमारी सरकार पंचतीर्थ के रूप में विकसित कर रही है। बाबा साहेब के साथ कांग्रेस पार्टी द्वारा जो सुलूक किया गया, वह हमें कभी भूलना नहीं चाहिए। वे एक महान अर्थशास्त्री, एक महान नीति-निर्माता, एक महान लेखक, एक महान कानून-विद थे। जिन सामाजिक परिस्थितियों में बाबा साहेब ने इतनी ऊँचाई हासिल की, वो असाधारण थी, अभूतपूर्व थी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश ने राजनीति का वह दौर भी देखा है, जब बाबा साहेब के बताए मार्ग पर चलने की बात कहते-कहते उन्हें भी धोखा दे दिया गया। बदलनी थी राजनीति, लेकिन उन्होंने भी अपना नारा बना लिया है- सबसे पहले परिवार औऱ रिश्तेदार। अपने स्वार्थ की पूर्ति के लिए, ऐसे लोगों ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लोगों की दुख-तकलीफें, उन पर जो गुजरी, सब भुला दिया है। पश्चिमी यूपी में कितना बड़ा पाप हुआ, पूरा देश इसका गवाह रहा है। कैसे बहन-बेटियों के साथ दुर्व्यवहार हुआ, कैसे लोगों को अपना घर, अपना कारोबार छोड़ना पड़ा, ये देश ने देखा है। जब पश्चिमी यूपी जल रहा था, मासूम लोग मारे जा रहे थे, तब उसके पीड़ितों की आवाज को अनसुना करने वाला कौन था? उत्तर प्रदेश 2014 में इन्हें बता चुका है कि जाति की स्वार्थ भरी राजनीति नहीं, विकास चाहिए। उत्तर प्रदेश ने 2017 में फिर इन्हें बताया कि जाति की स्वार्थभरी राजनीति नहीं, सबका साथ सबका विकास चाहिए। श्री मोदी ने कहा कि आतंकवाद हटना चाहिए या नहीं? पाकिस्तानी आतंकियों को घुसकर मारना चाहिए या नहीं? सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक करनी चाहिए थी या नहीं? हमारे वीर जवानों को खुली छूट मिलनी चाहिए या नहीं। भारतीय जनता पार्टी और इस चौकीदार पर देश की जनता के विश्वास का कारण स्पष्ट है। पांच वर्ष के विकास का इतिहास और आने वाले 5 वर्ष में विकास की नई आस। मोदी का मिशन है, आतंकवाद को हटाना, भ्रष्टाचार को हटाना, बीमारी को हटाना, गरीबी को हटाना। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के पास दशक भर से सैटेलाइट को मारने वाली तकनीक थी। कांग्रेस की सरकार से वैज्ञानिक इजाजत मांगते रहे, लेकिन रिमोट कंट्रोल वाली सरकार कांपती रही। जब इस चौकीदार से वैज्ञानिकों ने पूछा तो इस चौकीदार की सरकार ने सैटेलाइट उड़ाने वाली मिसाइल के परीक्षण को तुरंत हरी झंडी दे दी। अंतरिक्ष में भारत का शानदार प्रदर्शन आज चर्चा का विषय बना हुआ है। आप बताइए क्या देश को ताकतवर बनाने की सोच सपा-बसपा ने सामने रखी है? क्या सपा-बसपा ने देश को दमदार बनाने का कोई फॉर्मूला सामने रखा है? क्या कांग्रेस और उसके दूसरे महामिलावटी साथियों ने कोई सोच रखी है? श्री मोदी ने कहा कि महामिलावटी पार्टियों ने तो ऐसे लोगों को मैदान में उतारा है, जिसे वंदे मातरम् से भी परहेज़ है। जो वंदे मातरम् का सम्मान नहीं कर सकता, वह माँ भारती का सम्मान क्या करेगा? इनकी सोच सिर्फ एक ही है- मोदी को अपशब्द कहो, जोर-जोर से अपशब्द कहो, जितने अपशब्द कह सकते हो, उतने कहो। कांग्रेस वाले मुझे शौचालय का चौकीदार बता रहे हैं। सपा के एक नेता ने कहा कि मोदी कि बात शौचालय से शुरु होती है और शौचालय पर खत्म होती है। अरे बबुआ, शौचालय की चौकीदारी का महत्व क्या है, ये आप नहीं समझ पाओगे। आप के पास आज विदेशी टाइलों-विदेशी टोंटियों वाला टॉयलेट है लेकिन उन करोड़ों बहन बेटियों से पूछो जिनको आपने अंधेरे का इंतज़ार करने के लिए मजबूर कर रखा था। उन्होंने कहा कि ये चौकीदार करोड़ों बहनों की गरिमा का चौकीदार बन पाया, तो ये मेरे लिए सम्मान की बात है। हां, मुझे दुःख इस बात का है जिन सफाई कर्मचारियों का समाजवादी पार्टी अपमान कर रही है, उसे लेकर बहन जी भी चुप हैं। सपा-बसपा-कांग्रेस की महामिलावट की यही मानसिकता है कि यूपी में बेटियों के साथ अत्याचार चरम पर था। योगी आदित्यनाथ जी की सरकार ने इस गुंडागर्दी पर प्रहार किया है। ट्रिपल तलाक को लेकर सपा-बसपा और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इन लोगों की यही मानसिकता है कि हमारी मुस्लिम बहनें तीन तलाक जैसे अत्याचार को सहने के लिए मजबूर ही रहें। मैं उन्हें फिर विश्वास दिलाता हूं कि 23 मई को फिर एक बार मोदी सरकार बनने के बाद तीन तलाक पर बना कठोर कानून संसद में फिर से लाया जाएगा।
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हाथी साइकिल पर सवार है और निशाने पर चौकीदार है। असल में संकट अस्तित्व का था, इसलिए पहले के सारे अपशब्द छूट गए और नारा बनाया मेरा भी माफ, तुम्हारा भी माफ, वरना हो जाएंगे दोनों साफ! लेकिन जनता इनको माफ नहीं करेगी। हाफ-हाफ वालों को पूरा साफ कर देगी औऱ एक बार फिर भाजपा को पूर्ण बहुमत देगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि योगी जी की सरकार उत्तर प्रदेश में एक जनपद, एक उत्पाद योजना चला रही है। इसके तहत कच्चे माल, डिजाइन, परीक्षण, प्रदर्शन और मार्केटिंग जैसी सुविधाएं दे रही है। सबका साथ, सबका विकास – यही हमारा मंत्र है और सबको सुरक्षा, सबको सम्मान – यह हमारा संकल्प है। इसको सिद्धि तक पहुंचाने के लिए हमें एकजुट होकर चलना है।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *