वृद्धा पेंशन और राशन कार्ड के मुद्दे को लेकर रमेश बिधूड़ी ने किया प्रदर्शन

नई दिल्ली, 7 फरवरी। भाजपा सांसद श्री रमेश बिधूड़ी ने एक बार फिर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निवास पर बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन दिल्ली सरकार द्वारा वृद्धा पेंशन और राशन कार्ड ना बनाने को लेकर किया गया।

सांसद श्री रमेश बिधूड़ी इससे पूर्व भी कई बार अरविंद केजरीवाल के निवास पर प्रदर्शन कर चुके हैं। पूर्व में उन्होंने दिल्ली में बढ़ते शराब के ठेकों के संदर्भ में प्रदर्शन किया था। विरोध प्रदेशन में प्रदेश मीडिया प्रमुख श्री नवीन कुमार जिंदल, महरौली जिला अध्यक्ष श्री जगमोहन मेहलावत निगम पार्षद श्री भूपेन्द्र गुप्ता एवं श्री राजकुमार, महामंत्री महरौली श्री पवन राठी एवं श्री बलवीर सिंह आदि लोग उपस्थित थे।

प्रदर्शन के दौरान श्री रमेश बिधूड़ी ने कहा कि पिछले 7 सालों में दिल्ली सरकार ने एक भी नया राशन कार्ड नहीं बनाया है। राशन कार्ड बनवाने के लिए दिल्ली के लगभग 10 लाख लोगों ने पिछले 7 सालों में आवेदन करते आ रहे हैं। केंद्र सरकार पिछले दो सालों से लोगों को मुफ्त राशन उपलब्ध करवा रही है। लोगों को यह मुफ्त राशन मार्च के महीने तक मिलता रहेगा। केजरीवाल ने लोगों के राशन कार्ड नहीं बनवाए जिसके कारण कोरोना संकट में लोगों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ा।  उन्होंने कहा कि राशन कार्ड ना होने के कारण बड़ी संख्या में लोगों को राशन नहीं मिल पाया। लाखों की संख्या में दिल्ली में रहने वाले मजदूर लोगों ने पलायन किया। इन लोगों को परेशानी हुई इसके लिए अरविंद केजरीवाल जिम्मेवार है। दिल्ली के गरीब लोगों के सामने एक और बड़ा संकट आ रहा है।  केंद्र सरकार द्वारा स्वीकृत मुफ्त राशन सेवा मार्च के महीने तक रहेगी उसके बाद लोगों को मुफ्त राशन मिल पाना संभव नहीं लग रहा है।

श्री बिधूड़ी ने कहा कि जब तक राशन कार्ड नहीं बन जाता तब तक गरीब लोग कैसे 25 रूपये किलो आटा और 45 रूपये किलो चीनी खरीद पाएंगे। एक तरफ तो दिल्ली सरकार लोगों को मुफ्त बिजली देने का दावा करती है । दूसरी और लोगों को मिलने वाली मूलभूत सुविधाओं को रोक कर उनको प्रताड़ित कर रही है। इसके अलावा सांसद श्री रमेश बिधूड़ी ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने पिछले 3 सालों से एक भी वृद्धा पेंशन को स्वीकृति नहीं दी है। पेंशन मिलना बुजुर्गों के लिए सम्मान की बात है। कई बार देखा जाता है कि घर में बुजुर्गों को उनके परिवार वाले सम्मान नहीं देते हैं। पेंशन मिलने से बुजुर्गों में आत्म सम्मान की भावना जगी रहती है।

श्री बिधूड़ी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए जीएसटी के कारण दिल्ली का बजट लगभग दुगना हो गया है। इसके बावजूद भी दिल्ली सरकार बुजुर्गों को उनका हक नहीं दे रही है। दिल्ली का बजट बढ़ने के कारण बुजुर्गों की पेंशन तीन हजार कर दी जानी चाहिए पर दिल्ली सरकार पेंशन ही नहीं बना रही है। इसके आगे रमेश बिधूड़ी ने कहा कि अगर इन दोनों मांगों पर ठोस कदम नहीं उठाया गया तो वह अपने समर्थको और बुजुर्गों के साथ अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ जाएंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि दिल्ली के बुजुर्गों और गरीबों का हक अरविंद केजरीवाल मार रहे हैं। केजरीवाल दिल्ली को बर्बाद करने के लिए भरपूर प्रयास कर रहे है। दिल्ली में खोले जा रहे शराब के ठेकों के कारण दिल्ली के युवा गलत दिशा में चल रहे हैं। अगर ऐसा ही रहा तो वह दिन दूर नहीं जब दिल्ली का हाल पंजाब जैसा हो जाएगा।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *