प्रधानमंत्री मोदी ने हमेशा ओडिशा में उच्च शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया है-धमेन्द्र प्रधान

नई दिल्ली।पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने केन्‍द्रीय शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ के साथ ओडिशा के केन्‍द्रीय विश्वविद्यालय (सीयूओ) कोरापुट में शैक्षणिक ब्लॉक, पुस्तकालय और स्टाफ क्वार्टर की आधारशिला रखी।
श्री प्रधान ने संकाय और छात्रों को बधाई दी और ओडिशा में उच्च शिक्षा के लिए एक प्रमुख केन्‍द्र के रूप में खुद को स्थापित करने के लिए सीयूओ के प्रति खुशी जाहिर की। ओडिशा में उच्च शिक्षा को दिए गए प्रोत्साहन के बारे में जानकारी देते हुए, श्री प्रधान ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी ने हमेशा ओडिशा में उच्च शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया है। उनके नेतृत्व में ओडिशा में आईआईएम, आईआईटी, आईआईएसईआर, सीआईपीईटी, एनआईएसईआर,आईसीटी-आईओसीएल जैसे अध्‍ययन के कई प्रमुख संस्थान स्थापित किए गए हैं।”
 
राष्ट्रीय शिक्षा नीति के बारे में, श्री प्रधान ने कहा, “नई शिक्षा नीति क्षेत्र के समग्र विकास के लिए क्षेत्र आधारित उद्योग-शैक्षणिक समुदाय-सरकार की साझेदारी को सक्षम करेगी। कोरापुट जनजातीय विविधता में समृद्ध है और एनईपी 2020 एक व्यापक और रचनात्मक पाठ्यक्रम पर ध्यान केन्द्रित करेगा जो सुविधाहीन छात्रों को अधिक अवसर प्रदान करने के लिए विश्‍वविद्यायल को समर्थ बनाएगा और ओडिशा में अनुसंधान आधारित जनजातीय और मानवविज्ञान अध्ययन को बढ़ावा मिलेगा। ”
श्री प्रधान ने सीयूओ के छात्रों और फैकल्टी को भी अभिनव प्रयासों के लिए प्रोत्साहित किया, जो कृषि अनुसंधान और उद्यमशीलता का लाभ उठाते हुए कोरापुट के शानदार जैविक कृषि उत्पादों के लिए बेहतर और बड़े बाजार खोजने में सफल रहे, जैसे कि विश्व प्रसिद्ध कोरापुट अदरक। उन्होंने कहा, “सीयूओ ज्ञान के मार्ग पर ओडिशा और भारत का मार्गदर्शन करेगा और आत्‍मनिर्भर भारत का पथ प्रदर्शक होगा।”
इस अवसर पर, शिक्षा मंत्री श्री निशंक ने कहा कि “राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुसार अपने उद्देश्यों और प्रक्रियाओं को पूरा करने में संस्था द्वारा की गई प्रगति को देखकर मुझे प्रसन्नता हुई है। मुझे यकीन है कि विज्ञान और नए सामाजिक विज्ञान की शुरूआत से सीयू ओडिशा के मौजूदा संकायों में गुणवत्ता के और अधिक आयाम जोड़ेंगे। मुझे यह जानकर खुशी हो रही है कि विश्वविद्यालय ओडिशा के 12 जिलों में बड़े पैमाने पर एक कौशल विकास कार्यक्रम भी शुरू कर रहा है। मैं खुशी के इस अवसर पर संकाय, छात्रों, और प्रशासनिक कर्मचारियों को शुभकामनाएं देता हूं।”

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *