डॉ. निशंक इंडियन फेडरेशन फ्रांस द्वारा सम्मानित*

फ्रांस की राजधानी पेरिस स्थित इण्डिया हाउस में उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री और संसदीय समिति के सभापति डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक को उनकी रचनाधर्मिता के लिए सम्मानित किया गया। इस अवसर पर उनकी प्रसिद्ध रचना विश्व धरोहर गंगा के अंग्रेजी अनुवाद का भी विमोचन किया गया।
इस मौके पर डॉ. निशंक ने कहा कि यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विश्व आर्थिक फोरम में मौसम परिवर्तन को सबसे बड़ी चुनौती के रूप में पेश किया। अपने यूरोपीय भ्रमण के दौरान डॉ. निशंक ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में आयोजित एक कार्यक्रम में भी ‘ाामिल हुए। इस दौरान उन्होंने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हिमालय और अन्य वैश्विक हिमनदों पर प्रदूषण के विपरीत प्रभाव के चलते सारी दुनिया आज गम्भीर जल संकट के दौर से गुजर रही है। वियना में उनकी पुस्तक विश्व धरोहर गंगा के अंग्रेजी अनुवाद का भी विधिवत् विमोचन हुआ।
उन्होंने कहा कि हम जितना प्रकृति से सामंजस्थ स्थापित करेंगे उतना ही हमारा जीवन सुखमय तथा समृद्ध होगा। इस मौके पर उन्होंने यूरोपीय देशों द्वारा प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण की दिशा में उठाए जा रहे कदमों की मुक्तकण्ठ सराहना की। डॉ. निशंक का विकास तथा पर्यावरण की रक्षा में समन्वय स्थापित करने के लिए वैश्विक स्तर पर कदम उठाये जाने की आवश्यकता जतायी। डॉ. निशंक का संयुक्त राष्ट्र में भारतीय प्रतिनिधित्व कर रहे मंयक ‘ार्मा, विश्व परमाणु उर्जा संस्था के डॉ. अंसारी, वियना की हिन्दू मंदिर के अध्यक्ष श्री अहूजा के अलावा स्थानीय समुदाय के कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।
उधर पेरिस में फेडरेशन आॅफ इण्डिया इन फं्रास के प्रधान जोगेंद्र सिंह गोवियों अंतर के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा मुनू स्वामी, श्री दीदिए, अरूण गुलाटी ने उनका स्वागत किया।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *