आयुष्मान भारत योजना के तहत राज्य के 57 लाख परिवारों को लाभ मिल रहा है : अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  अमित शाह ने झारखंड में गिरिडीह, देवघर और बाघमारा में आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और डबल इंजन की भाजपा सरकारों द्वारा झारखंड की विकास यात्रा का विस्तार से वर्णन करते हुए प्रदेश की जनता से इस विकास यात्रा को और गति देने के लिए पुनः पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार के गठन का आह्वान किया। गिरिडीह में जन-सभा को संबोधित करने के बाद उन्होंने द्वादश ज्योतिर्लिंग में से एक सिद्धपीठ बाबा वैद्यनाथ धाम मंदिर में पूजा-अर्चना की और देश की मंगल कामना की। उन्होंने झारखंड की महान विभूतियों को नमन किया और कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार झारखंड के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। श्री शाह ने कहा कि तीन चरणों के मतदान के रुझानों से स्पष्ट है कि झारखंड की जनता ने प्रदेश में पुनः भारी बहुमत से कमल फूल की सरकार बनाने का ठान लिया है। उन्होंने कहा कि झारखंड में कांग्रेस, आरजेडी और झारखंड मुक्ति मोर्चा का गठबंधन घोर राजनीतिक अवसरवादिता का गठबंधन है जिसका एकमात्र उद्देश्य है किसी भी तरह सत्ता प्राप्त करना। इससे बड़े दुर्भाग्य की बात क्या हो सकती है कि आज हेमंत सोरेन सत्ता प्राप्त करने उस कांग्रेस का सहारा ले रहे हैं जिसने अलग झारखंड राज्य का मांग कर रहे युवाओं पर गोलियां चलवाई, डंडे बरसाए। यह कांग्रेस और आरजेडी अलग झारखंड राज्य का विरोध करते नहीं थकते थे। यह भारतीय जनता पार्टी की श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी सरकार थी जिसने झारखंड राज्य का निर्माण किया और अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री  रघुबर दास  इसे संवार रहे हैं।

गृह मंत्री ने कहा कि नक्सलवाद की समस्या रहते झारखंड का विकास संभव नहीं था। जिस जगह नक्सलवादियों का तांडव चलता था, वहां विकास के नित नए आयाम स्थापित हो रहे हैं। नक्सलवाद पर नकेल कसने का काम भाजपा सरकार ने किया है। कांग्रेस कभी भी नक्सलवाद को रोक नहीं सकती, इसे केवल और केवल प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ही रोक सकते हैं।राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा को जब-जब मौके मिले, उन्होंने जम कर भ्रष्टाचार किया, झारखंड की गरीब जनता को लूटा और दिल्ली के दरबार में चढ़ावा चढ़ाया। कांग्रेस की चार-चार पीढ़ियों ने देश पर शासन किया लेकिन झारखंड के विकास के लिए कुछ भी नहीं किया। 13वें वित्त आयोग में कांग्रेस सरकार के दौरान झारखंड को केवल 55,253 करोड़ रुपये दिए गए जबकि 14वें वित्त आयोग में मोदी सरकार के दौरान झारखंड को 3,08,487 करोड़ रुपये दिए गए। उन्होंने कहा कि आजादी के 70 सालों में झारखंड में केवल 22,000 किलोमीटर सड़क का ही निर्माण हुआ जबकि भाजपा सरकार के पांच वर्ष में ही प्रदेश में 22,865 किलोमीटर सड़क का निर्माण हो चुका है। इसके अतिरिक्त देवघर में एम्स बन रहा है, रांची में कैंसर अस्पताल बना है, पांच एयरपोर्ट का निर्माण हो रहा है और हजारीबाग, पलामू एवं दुमका में मेडिकल कॉलेज बनाया गया है। पतरातू में 4 हजार मेगावाट का बिजली प्लांट लगाया गया है और सिंदरी कारखाने को पुनः शुरू कराया गया है। मैं सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी को चुनौती देता हूँ कि वे अपने 55 साल के कार्यकाल का हिसाब झारखंड की जनता को दें, हमारा कोई भी कार्यकर्ता उनसे हमारे पांच साल के कार्यकाल की उपलब्धि पर बहस करने को तैयार है।

गिरिडीह में हुए विकास कार्यों को रेखांकित करते हुए श्री शाह ने कहा कि गिरिडीह क्षेत्र में इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना की गई है, गिरिडीह शहर में छः से ज्यादा गार्डन्स बना कर ग्रीन गिरिडीह की नींव रखी गई है, बराकर नदी पर पुल बना कर यहाँ के निवासियों की 50 वर्षों की समस्या का समाधान किया गया है, लगभग 237 करोड़ रुपये की लागत से 275 किमी सड़क का निर्माण कराया गया है, यहाँ 100% विद्युत् कनेक्टिविटी सुनिश्चित की गई है, लगभग 45 हजार शौचालयों का निर्माण कर महिलाओं को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया गया है, यहाँ के 1,22,169 छात्रों को छात्रवृत्ति दी गई है, 28,214 छात्रों को साइकिल दी गई है, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 17,911 गरीब परिवारों के लिए घरों का निर्माण हुआ है। लगभग 40 हजार गरीब महिलाओं को उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन दिए गए हैं और महिलाओं के लिए एक रुपये में रजिस्ट्री की सुविधा शुरू की गई है। देवघर में भाजपा सरकार द्वारा किये गए विकास का उल्लेख करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि श्रावण मास में बाबा बैद्यनाथ के दर्शन के लिए दुनिया भर से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए विशेष व्यवस्था हुई है और मेले का प्रबंधन सुदृढ़ हुआ है। यहाँ देवघर में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाने का काम चल रहा है, एम्स का निर्माण हो रहा है, दुमका-गोड्डा रेलवे लाइन की शुरुआत की गई है और बाबा बासुकीनाथ के श्रद्धालुओं के लिए कई सुविधाएं शुरू की गई है। केवल निशिकांत दुबे जी के संसदीय क्षेत्र गोड्डा में ही अकेले 1,000 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं पर काम चल रहा है। गोड्डा में इंजीनियरिंग कॉलेज खोला गया है, संस्कृत विश्वविद्यालय की स्थापना की गई है और अजय नदी पर 79 जलाशयों का कार्य चल रहा है जिसके पूरा होने पर लगभग 15,300 हेक्टेयर की रबी और लगभग 8,900 हेक्टेयर की खरीफ भूमि सिंचित होगी। देवघर में भारतीय फाउंडेशन द्वारा सत्यभारती लर्निंग सेंटर की स्थापना की गई है और यहाँ एक कृषि कृषि विज्ञान केंद्र की स्थापना की गई है। प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत इस क्षेत्र में 5,000 से अधिक घर और प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत 9100 और घरों का निर्माण कराया गया है। लगभग 109 किमी राजमार्ग बनाया गया है और आयुष्मान भारत योजना के तहत यहाँ के लगभग 47,226 लोग लाभान्वित हुए हैं। सौभाग्य योजना के तहत 20,765 घरों में बिजली कनेक्शन दिया गया, लगभग 45,087 माताओं को गैस कनेक्शन दिए गए और 35,000 से अधिक शौचालयों का निर्माण कराया गया। राशन कार्ड से लगभग 80,878 परिवारों को एक रुपये में पांच किलो अनाज मिल रहा है। उन्होंने कहा कि संथाल परगना क्षेत्र की बात करें तो देवघर और दुमका में एयरपोर्ट बन रहा है, डाकिया योजना के तहत आदिवासी परिवारों को हर माह 35 किलो अनाज मिल रहा है। साहेबगंज में गंगा नदी पर फोर लेन पुल और बंदरगाह के निर्माण का कार्य शुरू हुआ है। यहाँ एक मल्टी मॉडल हब भी बनाया जा रहा है।इसके अतिरिक्त 26 गाँवों के लिए जलपूर्ति योजना शुरू की गई है जिससे 3.28 लाख परिवारों को लाभ पहुंचा है। लगभग पांच लाख से अधिक परिवारों को स्वच्छ पीने का पानी के लिए योजना की शुरुआत की गई है और इस जिले में 1.21 लाख लोगों को आवास दिया गया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बाघमारा में विकास कार्यों को गिनाते हुए कहा कि क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीबों के लिए हजारों घर बनाए गए हैं। रेलमार्गों पर काम किया जा रहा है। यहाँ एयरपोर्ट बनाया जा रहा है। मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं। सड़कों पर काम चल रहा है। पानी की समस्या के समाधान के लिए पानी की अबाध आपूर्ति की व्यवस्था बनाई जा रही है। लगभग 92 करोड़ रुपये की लागत से इस क्षेत्र में पीने का पानी पहुंचाने की योजना बनाई गई है जिससे 13 पंचायतों में डेढ़ करोड़ लोगों को पानी मिलेगा। इलाके में लगभग 26 हजार से अधिक शौचालयों का निर्माण कर महिलाओं को सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया गया है। लगभग 79,921 लोगों को आयुष्मान भारत कार्ड वितरित किये गए हैं और अकेले धनबाद जिले में 2,05,273 गरीब महिलाओं को गैस का कनेक्शन दिया गया है। जिले में 1,04,000 किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि एवं मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत संयुक्त रूप से सालाना 11,000 रूपये से 31,000 रुपये तक की कृषि सहायता मिल रही है। सखी मंडल योजना से क्षेत्र में लगभग छः हजार से अधिक महिलाओं को स्वरोजगार मिला है।

श्री शाह ने कहा कि आदिवासियों एवं दलितों को मिल रहे आरक्षण में कटौती किये बगैर पिछड़ा समाज के बच्चों के लिए आरक्षण बढ़ाने को लेकर हमने एक कमिटी के गठन का निर्णय लिया है। झारखंड में बनने वाली अगली भाजपा सरकार सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए 33% आरक्षण सुनिश्चित करेगी, छोटे किसानों और छोटे दुकानदारों को बीमा उपलब्ध कराई जायेगी और पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन किया जायेगा। प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि के तहत पांच एकड़ तक की जमीन वाले किसानों को जहाँ 6,000 रुपये की वार्षिक आर्थिक सहायता दी जा रही है, वहीं मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत झारखंड की रघुबर सरकार प्रदेश के किसानों को 5,000 प्रति एकड़ के हिसाब से अतिरिक्त सहायता दी जा रही है। इस तरह झारखंड में किसानों को 11 हजार रुपये से 31,000 रुपये तक की वार्षिक कृषि सहायता मिल रही है। आयुष्मान भारत योजना के तहत राज्य के 57 लाख परिवारों को लाभ मिल रहा है। कांग्रेस पर बरसते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गाँधी कहते हैं कि धारा 370 और कश्मीर के मुद्दे का झारखंड से क्या लेना-देना है। मैं उन्हें बता देना चाहता हूँ कि जम्मू-कश्मीर से झारखंड सहित समग्र राष्ट्र की जनता का लेना-देना है क्योंकि हमारे वीर जवानों ने अपनी शहादत देकर भारत माता के इस मुकुटमणि की रक्षा की है। झारखंड की जनता के आशीर्वाद से लगातार दूसरी बार केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद पहले ही सत्र में प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 और 35A का उन्मूलन कर जम्मू-कश्मीर के विकास के द्वार खोल दिए।

श्रीराम जन्मभूमि विषय पर बोलते हुए श्री शाह ने कहा कि लगभग 100 वर्षों से राम जन्मभूमि का मुद्दा अदालतों में लटका हुआ था। समग्र राष्ट्र उस पूजनीय स्थल पर भगवान् श्रीराम के भव्य मंदिर के बनने का सपना संजोये था, जहां रामलला विराजमान हैं जबकि कांग्रेस लगातार इसकी सुनवाई को टालने के लिए षड्यंत्र रचती रही। देश की जनता ने बड़ी आशा के साथ  नरेन्द्र मोदी  को अपना प्रधानमंत्री चुना। आज देश की सर्वोच्च अदालत का भी फैसला आ चुका है। जल्द ही अयोध्या में अब मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान् श्रीराम का भव्य मंदिर बनेगा, इसे कोई नहीं रोक सकता। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि झारखंड के हर निवासी की चाह है कि देश सुरक्षित, सशक्त और समृद्ध बने। सोनिया-मनमोहन के 10 वर्षों की यूपीए सरकार के दौरान आये दिन हिंदुस्तान आतंक के दंश झेलने को मजबूर था और इस दौरान आतंकवाद से निपटने को लेकर हमारी कोई नीति नहीं रही। प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व में भारत ने आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक जंग का ऐलान कर रखा है। दुश्मनों ने उरी और पुलवामा में आतंकी हमले किये लेकिन हमने सर्जिकल स्ट्राइक और बालाकोट में एयरस्ट्राइक करके यह बता दिया कि दिल्ली में कांग्रेस नहीं, नरेन्द्र मोदी सरकार है जो दुश्मनों को ख़त्म करने के लिए संकल्पबद्ध है।नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 की चर्चा करते श्री शाह ने कहा कि हम पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में धार्मिक प्रताड़ना का शिकार हुए शरणार्थी अल्पसंख्यक हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, इसाई और पारसी भाइयों को नागरिकता देने का विधेयक लेकर आये जो वहां नर्क जैसी जिंदगी जीने को मजबूर थे लेकिन कांग्रेस तुष्टिकरण और वोट बैंक के लालच में इसका विरोध कर रही है और कह रही है कि यह विधेयक मुस्लिम विरोधी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को तो ऐसा बोलने की आदत पड़ गई है। हमने आतंकियों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक की, कांग्रेस ने कहा कि यह मुस्लिम विरोधी है। हमने दुश्मनों के खिलाफ एयरस्ट्राइक की, कांग्रेस ने इसे मुस्लिम विरोध से जोड़ा। हमने मुस्लिम महिलाओं को ट्रिपल तलाक से मुक्ति दिलाई, कांग्रेस ने कहा कि यह मुस्लिम विरोधी है। हमने जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए धारा 370 हटाया, कांग्रेस ने इसे फिर मुस्लिम विरोधी कहा। अब हम जब शरणार्थी भाइयों के लिए नागरिकता कानून लेकर आये हैं तो कांग्रेस फिर कह रही है कि यह मुस्लिम विरोधी है। मैं इस मंच से पुनः स्पष्ट कर देना चाहता हूँ कि इस विधेयक का हिंदुस्तान के मुस्लिम नागरिकों से कोई लेना-देना नहीं है।

कांग्रेस पर हमला जारी रखते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि नागरिकता कानून को लेकर कांग्रेस जनता को गुमराह कर रही है और नॉर्थ-ईस्ट में आग लगाने का काम कर रही है। मैं एक बार पुनः स्पष्ट कर देना चाहता हूँ कि नॉर्थ-ईस्ट के भाइयों-बहनों की संस्कृति, भाषा, उनकी सामाजिक पहचान और उनके राजनीतिक अधिकार अक्षुण्ण रहेंगे, इसकी जिम्मेदारी प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की है। कल मेघालय के मुख्यमंत्री  कॉनराड संगमा अपने मंत्रियों के साथ इस मुद्दे पर मुझसे मिलने आये। मैंने उन्हें समझाया कि नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर मेघालय में कोई समस्या नहीं है। फिर भी उन्होंने मुझसे आग्रह किया कि इसमें कुछ परिवर्तन होने चाहिए। मैंने उन्हें आश्वस्त करते हुए कहा कि आप क्रिसमस मना कर आइये, हम बैठ कर सकारात्मक सोच के साथ इसका समाधान निकालेंगे। इस विधेयक से हिंदुस्तान के किसी भी नागरिक अथवा राज्य को डरने की जरूरत नहीं है। श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस वर्षों से हिंदू-मुसलमान की राजनीति करती आई है, नक्सलवाद को बढ़ावा देती आई है, दंगों को भड़काती आई है और आज जब आतंकवाद पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  नकेल कसते हैं तो कांग्रेस उस पर भी तुष्टिकरण और वोट बैंक की राजनीति कर रही है। वास्तव में आतंकवाद को बचा कर आज तक कांग्रेस ने तुष्टिकरण और वोट बैंक की ही राजनीति तो की है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने प्रदेश की जनता से बढ़-चढ़ कर मतदान करने का आग्रह करते हुए कहा कि झारखंड का विकास केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है। हमने विगत पांच वर्षों में यह कर के दिखाया है। प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व में जारी हमारी विकास यात्रा यूं ही अनवरत जारी रहेगी।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *