15 दिसंबर को बद्री केदार सांस्कृतिक एवं सामाजिक संस्था द्वारा ‘गित्येर’ कार्यक्रम का आयोजन

नई दिल्ली । आगामी 15 दिसंबर को बद्री केदार सांस्कृतिक एवं सामाजिक संस्था द्वारा विगत वर्ष की भॉति ‘गित्येर’ कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। उत्तराखण्ड के दूरस्थ इलाकों में छिपि प्रतिभाओं को सामने लाने के उद्देश्य से बद्री केदार सांस्कृतिक एवं सामाजिक संस्था द्वारा, गीत-संगीत पर आधारित एक कार्यक्रम की नींव रखी गयी थी, जिसे ‘गित्येर’ नाम दिया गया। इस कार्यक्रम के जरिये उत्तराखण्ड के दूरस्थ ग्रामीण इलाकों में रहने वाले बच्चों व किशोरों को अपनी गीत-संगीत प्रतिभा दिखाने का मंच उपलब्ध कराया जाता है।
विगत वर्ष गित्येर कार्यक्रम, जो कि वर्तमान में एक लोकप्रिय प्रतिभाखोज कार्यक्रम बनता जा रहा है, के निर्णायक मण्डल में उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध गायक नरेंद्र सिंह नेगी व उनकी धर्मपत्नी श्रीमती उशा नेगी, लोकगायक किशन महिपाल व स्वर कोकिला अनुराधा निराला जैसे आला दर्जेे के गायक-गीतकार व संगीतकार शामिल थे। जिन प्रतिभाओं ने पिछले वर्ष के कार्यक्रम में अपना परचम फहराया था, उनके अब अपने यूट्यूब चैनल रहे हैं। साथ ही अनेक एल्बमों में भी उनको मौका मिल रहा है। संस्था ने अपने इस अभियान को आगे बढ़ाते हुए इस वर्श भी आगामी 15 दिसंबर को गित्येर कार्यक्रम आयोजिम करने का ऐलान किया है।

यह कार्यक्रम पॅचकुईंया रोड स्थित गढ़वाल भवन में आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम मध्याह्न 12 बजे से आरंभ होगा। यह जानकारी देते हुए गित्येर के महासचिव उमेश रावत ने बताया कि इस कार्यक्रम में अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए 10 बच्चों का चुनाव किया गया है। उन्होंने बताया कि विभिन्न माध्यमों के जरिये संस्था को कुल 55 वीडियो आवेदन प्राप्त हुए थे, संस्था के निर्णायक मण्डल ने 10 बच्चों का चुनाव किया। ये बच्चे अब गित्येर में अपने हुनर का जलवा दिखायेंगे। संगीत जगत की नामचीन हस्तियां अनेक प्रसिद्ध साहित्यकार व अन्य कलाक्षेत्रों के कलाकार एवं गणमान्य नागरिक इस कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे तथा कार्यक्रम में सम्मिलित होने वाले बच्चों को आशीर्वाद देंगे।
मधुर स्वरों की सरताज मीना राणा, वीरेंद्र नेगी राही व प्रसिद्ध गायिका माया उपाध्याय इस बार निर्णायक मण्डल में शामिल हैं। कार्यक्रम के प्रथम विजेता को 21 हजार रूपये, द्वितीय विजेता को

15 हजार रूपये तथा तृतीय विजेता को 11 हजार रूपये एवं पॉच हजार एक सौ रूपये की प्रोत्साहन राशि बाकी सभी प्रतिभागियों को प्रदान की जायेगी। सभी प्रतिभागी बच्चों के आने-जाने व रहने-ठहरने का पूरा व्यय आयोजक संस्था द्वारा वहन किया जायेगा। गित्येर के अध्यक्ष राजपाल पॅवार ने अधिकाधिक लोगों से गित्येर कार्यक्रम में सम्मिलित होकर नयी प्रतिभाओं को आशीर्वाद देने की अपील की है।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *