देश मजबूती से विकास के पथ पर आगे बढ़ता रहेगा : नड्डा

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष  जगत प्रकाश नड्डा ने  पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय में अफग़ानिस्तान और पाकिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना के चलते भारत में रह रहे हिंदू एवं सिख शरणार्थियों से मुलाक़ात की। शरणार्थी प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व  प्यारा सिंह, मनसा सिंह,  दीदार सिंह, प्रताप सिंह मनोहर सिंह एवं  खजिंदर सिंह कर रहे थे। प्रतिनिधि मंडल में शामिल शरणार्थी 28 वर्ष पहले अपनी इज्जत-आबरू बचाने अफग़ानिस्तान के काबुल व कंधार और पाकिस्तान के पेशावर से भारत आये थे जो वर्तमान में नई दिल्ली के तिलक नगर और मनोहर नगर में रहे रहे हैं।

इस अवसर पर श्री नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  के दृढ़ इच्छाशक्ति और इसके सूत्रधार केन्द्रीय गृह मंत्री एवं हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष  अमित शाह की रणनीति के बल पर अफग़ानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक प्रताड़ना के चलते अपनी इज्जत-आबरू बचाने भारत आये हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, ईसाई और पारसी शरणार्थियों के हितों एवं अधिकारों की रक्षा के लिए नागरिकता संशोधन कानून अस्तित्व में आया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  एवं केन्द्रीय गृह मंत्री  अमित शाह  ने वर्षों से नागरिकता प्रदान न होने के कारण बिना किसी अधिकार के कैम्पों में दिक्कत भरी जिंदगी बिता रहे हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, ईसाई और पारसी शरणार्थियों को नई दिशा और दृष्टि दिखाई है। कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि आज वर्षों से भारत में अफग़ानिस्तान और पाकिस्तान से आये हिंदू एवं सिख शरणार्थी भाइयों ने पार्टी कार्यालय आकर नागरिकता संशोधन कानून के अस्तित्व में आने की ख़ुशी में प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  और केन्द्रीय गृह मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह  को धन्यवाद दिया। इसके लिए उन्होंने मुझे एक धन्यवाद ज्ञापन भी सौंपा है और प्रधानमंत्री  एवं गृह मंत्री  के प्रति अपना आभार भी प्रकट किया है। मैं उन्हें आश्वस्त करता हूँ कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अल्पसंख्यक शरणार्थियों की नागरिकता की दिशा में जो कार्य हुआ है, इसमें और तेजी आएगी और उन्हें उनके कागजात और तीव्र गति से तैयार होकर मिलेंगे। हम इसके लिए हेल्प डेस्क भी बनाने वाले हैं। हम शरणार्थियों की मदद के लिए उनके कैंपों में भी व्यवस्था करने वाले हैं। इसके लिए पार्टी की ओर से भी हरसंभव कदम उठाये जायेंगे। श्री नड्डा ने जोर देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री   नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व में पिछले साढ़े पांच वर्षों में ऐसे निर्णायक फैसले लिए गए हैं जो हर तरह से देश हित में हैं और मानवता को मजबूत करने वाले हैं। जो नागरिकता संशोधन क़ानून (CAA) का विरोध कर रहे हैं, मैं उन नेताओं से भी कहना चाहता हूँ कि आप वोट बैंक की राजनीति को छोड़ें और इसके मानवीय पक्ष का निरादर न करें। मैं ईश्वर से कामना करता हूँ कि CAA का विरोध कर रहे नेताओं और पार्टियों को सद्बुद्धि आये। मैंने भरे सदन में विपक्षी पार्टियों के नेताओं से अपील की थी कि आप एक बार तो शरणार्थियों के कैंप में जाकर शरणार्थियों की दयनीय स्थिति को देखें। इन नेताओं को इनसे मिलना चाहिए था। यदि वे पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से अपनी इज्जत बचाने भारत आये हिंदू, बौद्ध, जैन, सिख, ईसाई और पारसी लोगों की कैंपों में जिंदगी देखते तो वे अपनी राय बदल लेते लेकिन विपक्षी पार्टियों को सिवाय वोट बैंक की राजनीति के कुछ और नहीं दिखता है। कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व में देश लगातार आगे बढ़ रहा है और मजबूती से विकास के पथ पर आगे बढ़ता रहेगा। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) भी लागू होगा और आगे चल कर नेशनल रजिस्टर और सिटीजंस भी बनेगा। मैं आज पार्टी कार्यालय में आये शरणार्थी भाइयों का धन्यवाद प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री  अमित शाह  तक पहुंचाउंगा। मैं भारत में रह रहे हिंदू, बौद्ध, जैन, सिख, ईसाई और पारसी शरणार्थियों से अपील करता हूँ कि आप मुख्यधारा में शामिल होकर देश के नवनिर्माण में शामिल हों।  पत्रकारों के एक सवाल का जवाब देते हुए पाकिस्तान और कांग्रेस की भाषा बड़ी मिलती-जुलती सी है। कांग्रेस और पाकिस्तान के वैचारिक मेल का प्रदर्शन प्रियंका वाड्रा और राहुल गाँधी सहित कांग्रेस के तमाम नेता कर रहे हैं। यह समाज में नफरत फैला कर वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति करने की कांग्रेस की साजिश है।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *