राहुल गांधी ने कठिन दौर में कांग्रेस की कमान संभालने का साहस किया : जसवीर राणा

कोटद्वार; कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से त्यागपत्र की पेशकश से आहत कांग्रेसजनों द्वारा अपने खून से पत्र लिखकर पार्टी अध्यक्ष पद से कार्यकर्ताओं की भावनाओं को देखकर त्यागपत्र नहीं देने की अपील की है । कांग्रेस कार्यकर्ता जुलूस की शक्ल में तहसील पहुँचे तथा राहुल गाँधी के पक्ष में नारेबाजी करते हुए खून से लिखा पत्र राहुल गाँधी को प्रेषित किया । जिसमें उन्हें कार्यकर्ताओं की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए पद न छोडने की अपील की है । पूर्व राज्यमंत्री जसवीर राणा ने कहा कि राहुल गांधी ने कठिन दौर में कांग्रेस की कमान संभालने का साहस किया तथा कठिन परिश्रम से कई प्रदेशों में सरकार की वापसी हुई ।
राहुल गांधी संघर्ष का दूसरा नाम है ।यदि वे चाहते तो यूपीऐ की सरकार में प्रधानमंत्री बन सकते थे लेकिन उन्होंने सत्ता नहीं संगठन की सेवा को प्राथमिकता दी । उन्होंने कांग्रेस पार्टी को मजबूती प्रदान करने के सर्वाधिक प्रयास किये हैं । युवा कांग्रेस के पूर्व महासचिव प्रवेश रावत एवं युवा कांग्रेस के साथियों ने खून से पत्र लिखकर पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को त्यागपत्र न देने की अपील की है । उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में देश व पार्टी को उनकी सख्त आवश्यकता है ।  पूर्व युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष हेमचन्द्र पंवार ने कहा कि देश हित में राहुल गांधी को त्यागपत्र नहीं देना चाहिए क्योंकि सिर्फ एकमात्र नेता राहुल गाँधी है जो देश की साम्प्रदायिक शक्तियों से लोहा ले सकते हैं । प्रदर्शन में मुख्यरूप से पूर्व प्रधान नरेन्द्र सिंह नेगी, बृजेन्द्र नेगी, भानुप्रकाश बलोदी, आशुतोष कण्डवाल,पूर्व प्रधान बीरेन्द्र रावत, एन एस यू आई महासचिव सौरभ पाण्डेय, जनक भाटिया, चन्द्रकांत प्रकाश, दीपक रावत, अतुल नेगी, सोहन सिंह नेगी,जावेद अहमद, दिनेश शर्मा, रोहित रावत, राजेश भाटिया, दिपेश सहित बडी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे ।
Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *