पीएनबी ने महिला केंद्रित स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी की शुरूआत कर अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया

दिल्ली, 8 मार्च, 2022: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के शुभ अवसर पर, पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) ने दिल्ली में अपने प्रधान कार्यालय में एक सम्मान समारोह का आयोजन कर अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया और महिला केंद्रित स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों का शुभारंभ किया। बैंक ने जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में सफल महिलाओं को सम्मानित किया और समारोह में महिला कर्मचारियों के एक विशाल समूह को प्रेरित करते हुए समाज में अपना मजबूत स्थान बनाने के लिए प्रोत्साहित किया गया।
इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि डॉ साधना शंकर- प्रधान आयकर महानिदेशक (नई दिल्ली), श्री अतुल कुमार गोयल-प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी,पीएनबी, श्री कल्याण कुमार -कार्यपालक निदेशक, पीएनबी और श्री सुनील सोनी- मुख्य महाप्रबंधक, पीएनबी के साथ पीएनबी प्रेरणा की अध्यक्षा श्रीमती पूनम गोयल और उपाध्यक्षाएं श्रीमती संगीता कुमार , श्रीमती अंजना दुबे और श्रीमती साधना कुमारी तथा पीएनबी प्रेरणा के अन्य वरिष्ठ सदस्य और बैंक की महिला अधिकारी उपस्थित रही।
समारोह के अवसर पर, पीएनबी ने चोलामंडलम एमएस जनरल इंश्योरेंस और बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस के सहयोग से महिला-केन्द्रित स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों का शुभारंभ किया। इस पहल का उद्देश्य भारतीय महिलाओं को एक समर्पित और व्यापक पॉलिसी प्रदान करना है जो विभिन्न आकस्मिक स्वास्थ्य स्थितियों के विरद्ध उनके भविष्य को सुरक्षित करता है।
इसके अतिरिक्त, आज पीएनबी ने महिलाओं को समर्पित 9000 से अधिक पीएनबी पावर सेविंग्स खाते खोले जो उन्हें कई लाभ और रियायतें प्रदान करते हैं।
इस विशेष अवसर पर श्री अतुल कुमार गोयल ने पीएनबी के वरिष्ठ सदस्यों के साथ डॉ साधना शंकर की पुस्तक ‘आरोहण’ का विमोचन किया। उनकी पुस्तक तेईसवीं सदी की पृथ्वी की एक महिला की चेतना पर विज्ञान कथा है जो दूर भविष्य में एक अलग ग्रह पर रहने वाली है।
महिला बैंकरों के अपरिहार्य योगदान को स्वीकार करते हुए, डॉ साधना शंकर ने कहा, “हाल ही में विश्व आर्थिक मंच की एक रिपोर्ट ने चेतावनी दी थी कि COVID-19 महामारी के प्रभाव ने वैश्विक लिंग अंतर को लगभग 99 वर्ष से बढ़ाकर 135 वर्ष कर दिया है। इस महामारी में महिलाओं को आर्थिक बाधाओं, राजनीतिक भागीदारी में गिरावट और कार्यस्थल की चुनौतियों का सामना करना पड़ा। इसलिए, हमें इस मुद्दे को हल करने के लिए त्वरित रणनीतियां और नीतियां बनाने की आवश्यकता है।
समारोह को संबोधित करते हुए, पीएनबी के एमडी एवं सीईओ श्री अतुल कुमार गोयल ने कहा, “महिलाएं पेशेवर और व्यक्तिगत दोनों मोर्चों पर किले को मजबूती से पकड़े हुए कई क्षमताओं में अनेक भूमिकाएँ निभाती हैं। वे देश के आर्थिक विकास में समान भागीदार हैं और परिवार की मूल्यवान संपत्ति हैं। इसलिए, आइए हम ‘#ब्रेक द बायस’ विषय का पूरा समर्थन करें और पूर्वाग्रह, रूढ़ियों और भेदभाव से मुक्त दुनिया को सुदृढ़ करें।”

पीएनबी के ईडी श्री कल्याण कुमार ने कहा, “भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव के एक हिस्से के रूप में, हम अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस बहुत धूमधाम और जोश के साथ मनाते हैं। लेकिन, हम केवल तभी पूर्वाग्रह को तोड़ सकते हैं जब हमारे साथ और परिवार के भीतर बदलाव शुरू करेंगे।”
सीएसआर गतिविधियां:
महिला सशक्तिकरण के लिए पीएनबी की चल रही प्रतिबद्धताओं के तहत, बैंक ने महिला दिवस पर विभिन्न सीएसआर गतिविधियों की शुरुआत की। बैंक ने मुकुल फाउंडेशन को सिलाई मशीन, पेडल अगरबत्ती बनाने और कप बनाने की मशीन प्रदान करते हुए , महिलाओं को आजीविका के लिए समर्थन और आत्मनिर्भरता और उद्यमिता को बढ़ावा दिया। इसके अलावा, बैंक ने एसडीएमसी प्राइमरी स्कूल (दिल्ली)और गवर्नमेंट गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल (दिल्ली) को सीलिंग फैन, रेफ्रिजरेटर, एग्जॉस्ट फैन, आरओ सिस्टम जैसी आवश्यक वस्तुए प्रदान कर योगदान दिया। ये स्कूल सक्रिय रूप से 3400 से अधिक छात्राओं को प्राथमिक शिक्षा प्रदान करते हैं।
महिला केंद्रित बीमा पॉलिसी:
बैंक ने चोला सर्व शक्ति पॉलिसी की शुरआत की , जो एक ऑल-इन-वन उत्पाद है और यह उत्पाद चोला मंडलम एमएस जनरल इंश्योरेंस के सहयोग से 2 करोड़ रूपये तक का बीमा प्रदान करता है। इस पॉलिसी के लाभों में व्यक्तिगत दुर्घटना, गंभीर बीमारी, स्वास्थ्य कवर, गर्भावस्था की चिकित्सा समाप्ति, आनुवंशिक परीक्षण, नौकरी छूटने पर ईएमआई लाभ, सहायता कवर और भी बहुत कुछ इसमें शामिल हैं।
दूसरी ओर, बजाज आलियांज की महिला-विशिष्ट गंभीर बीमारी योजना एक पॉकेट-फ्रेंडली उत्पाद है जो रुपये 0.5 लाख से रु. 2 लाख तक का बीमा प्रदान करता है। भारतीय महिलाओं को अच्छे स्वास्थ्य और वित्त के साथ सशक्त बनाने के लिए दोनों स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियां ​​शुरू की गई हैं।
इस पर बैंक के एमडी एवं सीईओ श्री अतुल कुमार गोयल ने अपने विचार रखते हुए कहा कि “महिलाओं के लिए बीमा निर्णय लेने पर अधिक नियंत्रण रखना महत्वपूर्ण है। पीएनबी ने अपने बीमा भागीदारों के साथ मिलकर वर्षों से महिलाओं द्वारा बेहतर बीमा अपनाने और उनकी विशिष्ट जरूरतों को पूरा करने वाले उत्पादों को तैयार करने के लिए मिलकर काम किया है। महिलाओं के लिए बीमा प्रवृत्तियां समय के साथ विकसित हुई हैं और हमे आशा है कि इस अंतर को हम और कम कर पायेंगे”

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *