पंडित निखिल बनर्जी भारतीय शास्त्रीय संगीत के महानतम कलाकार और सम्पूर्ण जगत के गौरव और प्रेरणा स्रोत रहे -काजल जोशी

नई दिल्ली।सामाजिक और सांस्कृतिक संस्था “WONDERS_INDIA( वन्डर्स इन्डिया) ” और “सृजन एकेडमी ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट्स एंड कल्चर” के तत्वावधान में पद्मभूषण एवं महान सितारवादक पंडित निखिल बनर्जी के 89 वीं जन्मशती के शुभ अवसर पर तीन दिवसीय पंडित निखिल बनर्जी स्मृति संगीत सम्मेलन” का आयोजन 14, 15 और 16 अक्टूबर को किया गया। इस अवसर पर तीन दिवसीय संगीत कार्यक्रम में देश विदेश के प्रतिष्ठित एवं भारतीय शास्त्रीय संगीत की विरासत के प्रसिद्ध सितार कलाकारों द्वारा अपनी कला के माध्यम से संगीत जगत के महानतम कलाकार पंडित निखिल बनर्जी को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी ।

इस तीन दिवसीय कार्यक्रम का उदघाटन एवं शुभारंभ मुख्य अतिथि श्री विनोद बछेती ,चेयरमैन डीपीएमआई, द्वारा पंडित निखिल बनर्जी की स्मृति में दीप प्रज्वलित कर किया गया ।आगे दो दिन के कार्यक्रम का शुभारंभ श्री युगल जोशी ,डायरेक्टर, स्वच्छ भारत मिशन , और श्री मनोज गोयल ,पार्षद- वैशाली के कर कमलों द्वारा किया गया। ।
इस अवसर पर संस्था की संस्थापक -अध्यक्ष और प्रसिद्ध सितार कलाकार श्रीमती काजल जोशी ने हमसे बातचीत में बताया कि पंडित निखिल बनर्जी भारतीय शास्त्रीय संगीत के महानतम कलाकार और सम्पूर्ण जगत के गौरव और प्रेरणा स्रोत रहे हैं।उन्होंने बताया कि वह पंडित निखिल बनर्जी की शिष्य परंपरा के अन्तर्गत आती हैं और इस आयोजन के माध्यम से उन्होंने पंडित जी की महान विरासत को आने वाली पीढी तक पहुचाने का प्रयास किया है ।श्रीमती काजल जोशी भारतीय शास्त्रीय संगीत से गहराई से जुड़ी हैं और शास्त्रीय संगीत को संरक्षित और बढ़ावा देने के लिए पिछले कई वर्षों से कार्य कर रही हैं ।

इस मौक पर संगीत सम्मेलन में देश के प्रतिष्ठित सितार वादक श्री पार्था प्रतिम राय, प• असीम चौधुरी, श्री जयदीप भांजा चौधुरी, प• अरूप रतन मुखर्जी, श्री राज कुमार, श्री सुरेन्द्र कुमार रावल और श्री पुर्णेंदु बनर्जी ने अपनी सितार वादन द्वारा अपनी स्वरान्जलि अर्पित की ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: