राष्ट्रीय जल मिशन ने आरंभ की कैच द रेन योजना— जी अशोक कुमार

नई दिल्ली।राष्ट्रीय जल मिशन ने एक महत्वपूर्ण योजना का शुभारंभ किया है जिसको लेकर मिशन एक कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है जिसकी जानकारी विभाग के अतिरिक्त सचिव व मिशन निदेशक जी अशोक कुमार ने एक खास मुलाकात में दी।
श्री जी अशोक कुमार ने बताया कि मिशन ने कैच द रेन नामक योजना की शुरुआत वर्ष 2020 में की थी लेकिन कोरोना महामारी के चलते इस योजना पर कोई खास काम नहीं हो पाया था इसलिए मिशन इस योजना के तहत राष्ट्रीय स्तर पर कार्यक्रम चलाकर आम लोगों को जोड़ने का काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस योजना से बारिश का पानी जो किसी काम नहीं आता है वह जगह-जगह एकत्रित करके आम जनता के उपयोग में लाया जाएगा।

श्री जी अशोक कुमार ने बताया कि कैच द रेन योजना के तहत बारिश का पानी जमा करने से पानी की साल भर की जरूरते पूरी होने में मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि इस योजना से पानी का भूतल स्तर में बढ़ोतरी होगी और बारिश की वजह से जो विभिन्न क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति बनती है उस पर भी पूरी तरह अंकुश लगेगा।
उन्होंने बातचीत में बताया कि खेती योग्य जमीन में बार-बार एक ही खेती करने से भूजल का स्तर बहुत ही गिर जाता है इसलिए मिशन ने सही फसल योजना के तहत देश के विभिन्न क्षेत्रों में कार्यक्रमों के माध्यम से जानकारी दी जिससे किसान बार-बार एक ही फसल की खेती ना करें क्योंकि बार-बार एक ही फसल की खेती करने से जमीन का जल स्तर नीचे गिर जाता है।
मिशन निदेशक ने बताया कि पहाड़ी राज्यों में इस योजना के लिए एनजीटी की कोई समस्या नहीं होने वाली है क्योंकि इस योजना में किसी भी पेड़ पौधों को कोई नुकसान नहीं होने वाला है इस योजना के तहत छोटे-छोटे तालाब व गड्ढों में बारिश का पानी इकट्ठा किया जाएगा और इस योजना को सफल बनाने के लिए मिशन ने कई विभागों से बातचीत की है जिनके पास बहुत संख्या में खाली जमीन है वह इस योजना से जुड़े और खाली पड़ी जमीन का इस्तेमाल बारिश का पानी एकत्रित करने में करें।
उन्होंने बताया कि इस योजना को जन जन तक पहुंचाने के लिए वह स्वयं जिलाधिकारियों से विभिन्न माध्यमों से वार्ता करते रहते हैं।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *