केजरीवाल की शराब नीति महिला एवं युवाओं के लिए सबसे बड़ा खतरा-बैजयंत जय पांडा

शराब नीति पर लोगों की मिली प्रतिक्रिया से केजरीवाल की उल्टी गिनती शुरु हो गई है-आदेश गुप्ता

नई दिल्ली, 4 मार्च। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं दिल्ली प्रदेश के प्रभारी श्री बैजयंत जय पांडा ने कहा कि दिल्ली की शराब नीति प्रदेश के युवाओं एवं महिलाओं के लिए सबसे बड़ा खतरा है। केजरीवाल ने पिछले सात सालों में ना ही किसी तरह का रोजगार दिया और ना ही अपने किए वायदें को पूरा किया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री आदेश गुप्ता के नेतृत्व में हुए जनमत संग्रह अभियान में आज राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के पास मीडिया को संबोधित करते हुए श्री पांडा ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से एक पर एक मुफ्त शराब बांटकर केजरीवाल ने पूरी दिल्ली को शराब पिलाने में लगा दिया। दिहाड़ी मजदूर भी काम करने की जगह शराब के ठेकों पर लंबी पंक्तियों में खड़े होकर शराब की बोतले खरीद घर में पीकर पड़े हुए थे जिससे उनके घर की रोजी-रोटी भी चलना मुश्किल हो गया है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री आदेश गुप्ता ने कहा कि आज जिस तरह से जनमत संग्रह में शराब नीति के खिलाफ लोगों की प्रतिक्रियाएं मिल रही है, उससे केजरीवाल की उल्टी गिनती शुरु हो गई है। श्री गुप्ता ने कहा कि दिल्ली के लगभग 99 प्रतिशत से अधिक लोगों का मानना है कि शराब नीति एक ‘खराब नीति’ हैं जिसका सहारा लेकर राजस्व के बहाने अपनी जेब भरने के लिए केजरीवाल दिल्ली के युवाओं और महिलाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

श्री आदेश गुप्ता ने जनमत पत्रक द्वारा लोगों तक खुद पहुंचे और शराब नीति पर उनकी राय जानी। उन्होंने कहा कि केजरीवाल द्वारा लाई गई शराब नीति खासकर युवाओं के भविष्य एवं महिलाओं की सुरक्षा पर सबसे बड़ा प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है। 500 स्कूलों का वायदा कर, कॉलेजों का वायदा करके बदले में शराब के ठेके देने का काम केजरीवाल सरकार ने किया है।

श्री आदेश गुप्ता ने कहा कि आज शराब माफियाओं के साथ सांठगाठ कर एक पर एक मुफ्त शराब देने की केजरीवाल की नीति के कारण कारखानों में काम  करने की जगह  मजदूर शराब के ठेकों के सामने लंबी पंक्तियों में खड़े हो कर अपना स्वास्थ्य खराब करने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि कई कारखाना मालिकों का कहना है कि पहले तो दिहाड़ी मजदूर काम करते थे लेकिन अब वे भी अब काम करने की जगह दिन भर शराब के नशे में डुबे हुए हैं।

श्री गुप्ता ने कहा कि कानून की धज्जियां उड़ाते हुए एवं न्यायालय को गुमराह कर केजरीवाल ने रिहायशी इलाकों में, विद्यालय एवं मंदिरों के पास भी अवैध शराब के ठेके खोलने का काम किया है। पैसों के लालच और अपने जेब भरने के लिए वह दिल्ली को शराब नगरी बनाने का काम कर रहे हैं। राजीव चौक में हुए जनमत संग्रह अभियान में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के साथ प्रदेश महामंत्री श्री कुलजीत सिंह चहल एवं श्री हर्ष मल्होत्रा, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री राजन तिवारी, प्रदेश मीडिया प्रमुख श्री नवीन कुमार जिंदल सहित अन्य भाजपा पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

प्रदेश भजापा द्वारा आज दिल्ली के लगभग 1120 स्थानों पर जनमत संग्रह के तहत लगभग 10 लाख से अधिक लोगों की राय केजरीवाल की शराब नीति पर ली गई। इसके लिए प्रदेश के प्रत्येक वार्ड के लगभग तीन से चार स्थानों पर प्रदेश के पदाधिकारी, विधायक, मोर्चे एवं जिले के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष सहित 50,000 से अधिक भाजपा कार्यकर्ता इस मुहिम में शामिल हुए।

नेता प्रतिपक्ष श्री रामवीर सिंह बिधूड़ी ने लाजपत नगर में जनमत संग्रह के दौरान मीडिया से बात करते हुए कहा कि केजरीवाल की शराब नीति से दिल्ली की जनता पूरी तरह से परेशान  है। गली-गली में शराब की नदियां बहाने वाली शराब नीति के खिलाफ दिल्ली की जनता में आक्रोश है और इसका खामियाजा केजरीवाल को भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से केजरीवाल ने खुद के फायदें के लिए शराबमाफियाओं से हाथ मिलाकर दिल्ली को नशे की लत में धकेलने का प्रयास कर रहे हैं उसे भाजपा कभी बर्दाश्त नहीं करेगी।

आज प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर होने वाले जनमत संग्रह में मुख्य रुप से राम नगर पहाड़गंज में पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद डॉ. हर्षवर्धन, भूल भूलैया महरौली में सांसद श्री रमेश बिधूड़ी, सब्जी मार्किट जहांगीरपुरी में सांसद श्री हंसराज हंस, कमला नगर में पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री विजय गोयल, रोहिणी में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्री विजेन्द्र गुप्ता, लक्ष्मीनगर मुख्य बाज़ार में प्रदेश महामंत्री श्री दिनेश प्रताप सिंह, ग्रीन पार्क मार्केट में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्री सतीश उपाध्याय, द्वारका मोड़ उत्तम नगर में असम के सह-प्रभारी श्री पवन शर्मा सहित अन्य प्रदेश पदाधिकारियों ने जनमत संग्रह का नेतृत्व किया और लोगों से शराब नीति पर राय ली।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *