रिखणीखाल ब्लॉक के सभी क्वॉरेंटीन सेंटरों में हंस फाउंडेशन द्वारा ऑपरेशन नमस्ते माध्यम से खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई गई-गोकुल नेगी

अमर चंद्र नई दिल्ली।कोविड-19 वैश्विक महामारी के मामले पूरे देश के लिए एक बहुत बडी समस्या का कारण बने हुए हैं। जिसके चलते देश में लॉकडाउन 0-4 घोषित है। इस जानलेवा कोविड 19 महामारी ने देश की रफ्तार पर रोक सी लगा दी है।

“हँस फाउंडेशन-ऑपरेशन नमस्ते द्वारा ” श्री भोले जी महाराज एवं माताश्री मंगला जी की अनुकम्पा से समस्त रिखणीखाल ब्लॉक के 81 ग्राम सभाओं में सरकार के निर्देशानुसार कोविड-19 के लिए स्थापित 109 क्वारन्टीन सेंटरों के सहायतार्थ खाद्य एवं अन्य सामग्री का वितरण आज 25 मई से शुरू किया गया है

ऑपरेशन नमस्ते के तहत जो 28 मई तक किया जाएगा। रिखणीखाल क्षेत्र के मूल निवासी वरिष्ठ समाजसेवी व रिखणीखाल ब्लॉक विकास जागृति समिति के अध्यक्ष गोकुल नेगी के विशेष सहयोग से ये खाद्य एवं अन्य सामग्री रिखणीखाल क्षेत्र के हर ग्राम सभा में क्वारन्टीन सेंटरो में रह रहे लोगों को दी जा रही है

संस्था के अध्यक्ष श्री नेगी ने बताया कि आज रिखणीखाल क्षेत्र के पट्टी पैनो के कुमाल्डी गाँव के स्कूल मे जिला पंचायत सदस्य कर्तिया विनय पाल सिंह नेगी, व ग्राम प्रधान कुमाल्डी श्रीमती हीमा देवी द्बारा खाद्य सामग्री मास्क वितरण किया गया।

गोकुल नेगी ने बताया कि शालिनी बलोदी, जिला पंचायत सदस्य, 19- सुलमोडी के द्वारा प्रशासन के दिशा निर्देश अनुसार उनके जिला पंचायत क्षेत्र मे बने क्वारन्टीन सेंटरो मे क्षेत्र के ग्राम प्रधान के साथ खाद्य सामग्री का वितरण किया जायेगा। इस अवसर पर हर क्षेत्र के ग्राम प्रधानों को ये खाद्य एवं अन्य सामग्री सौपी जा रही है।

क्षेत्र में रह रहे सभी ग्रामीणों एवं क्वारन्टीन सेंटरों में रह रहे लोगों ने श्री भोले जी महाराज एवम माताश्री मंगला जी का तहेदिल से धन्यवाद किया, और हँस फाउंडेशन के ऑपरेशन नमस्ते की भूरी भूरी प्रशंसा की। श्री नेगी ने बताया कि इस सामग्री में बच्चों के लिए विशेष व्यवस्था भी की गई।

कर्तिया जिला पंचायत सदस्य विनय पाल सिंह नेगी ने माताश्री मंगला जी एवम श्री भोले महाराज जी का आभार प्रकट करते हुए कहा कि उनकी असीम कृपा क्षेत्र को हमेशा मिलती रहती है, उन्होंने कहा इस प्रयास के लिए मैं श्री गोकुल नेगी जी का भी आभार प्रकट करता हूं जिन्होंने इस मुसीबत की घड़ी में खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने में मदद की।

हंस फाउंडेशन की प्रेरणास्रोत माता श्री मंगला जी व भोले जी महाराज ने अपने संदेश में कहां कि आज जब देश महामारी कोविड-19 से लड़ रहा है। देश के कमजोर तबके के लोगों को इस संक्रमण के चलते कई दिक्कतों से जुझना पड़ रहा है। देश की रफ्तार रूक गई है।

इस संकट के समय में देश को बहुत मदद की आवश्यकता है। ऐसे समय में हम एक छोटी सी मदद के माध्यम से देश की सेवा में भागीदारी निभा पा रहे है। यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है।

आपको बता दें कि हंस फाउंडेशन कोविड-19 संक्रमण के चलते देश भर में लॉकडाउन में फंसे कमजोर और जरूरतमंद तबके के लोगों के लिए ऑपरेशन नमस्ते के जरिए निरंतर मदद पहुंचा रहा है। हंस फाउंडेशन सोशल डिस्टेसिंग का अनुपालन करते हुए डिजिटल इंडिया के माध्यम से हज़ारों गरीब परिवारों तक राशन,मास्क और तमाम दूसरी सेवाएं प्रदान कर रहा है।

ज्ञात हो इस कोविड -19 महामारी से लड़ने के लिए हंस फाउंडेशन व करुणामई माताश्री मंगला जी एवम श्री भोले जी महाराज ने प्रधानमंत्री केयर फंड में चार करोड रुपए व उत्तराखंड के मुख्यमंत्री राहत कोष में एक करोड़ 51लाख रूपये दान दिये है। हंस फाउंडेशन हमेशा से जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए आगे आकर मदद करता रहा है।

रिखणीखाल ब्लॉक विकास जागृति समिति के अध्यक्ष गोकुल नेगी ने बताया कि माताश्री मंगला जी व श्री भोले महाराज जी की अनुकंपा से उन्होने क्षेत्र में कई स्वास्थ्य कैंप भी लगाए हैं, उन्होंने कहा माताजी व महाराज जी का हमेशा उनको आशीर्वाद मिलता रहा है। हंस फाउंडेशन द्धारा ऑपरेशन नमस्ते के माध्यम से इस समय उत्तराखंड के दूरगामी क्षेत्रों में बसे ग्रामीणों तक निरंतर खाद्य सामग्री भी प्रदान की जा रही है।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *