सतलुज यमुना लिंक नहर के निर्माण के संदर्भ में केंद्र, हरियाणा व पंजाब के मध्य हुई वार्ता

नई दिल्ली।सतलुज यमुना लिंक नहर के निर्माण के संदर्भ में केंद्र, हरियाणा व पंजाब के मध्य हुई वार्ता संतोषजनक रही। दूसरे दौर की वार्ता एक सप्ताह के उपरांत होगी। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि वार्ता खुले मन से हुई और सतलुज यमुना लिंक नहर का निर्माण होना चाहिए।
               उल्लेखनीय है कि सतलुज यमुना लिंक नहर के निर्माण के संदर्भ में सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के अंतर्गत नई दिल्ली में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई। नई दिल्ली में हुई उच्च स्तरीय बैठक में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत व हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल मौजूद रहे। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह  वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से बैठक में शामिल हुए। इस उच्चस्तरीय बैठक में सतलुज यमुना लिंक नहर के निर्माण के संदर्भ में गहनता से विचार-विमर्श हुआ।
           बैठक के उपरांत केंद्रीय जलशक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मीडिया से बातचीत करते हुए इस प्रथम दौर की उच्चस्तरीय वार्ता को एक प्रकार से संतोषजनक बताते हुए कहा कि एक सप्ताह के उपरांत दूसरे दौर की वार्ता होगी। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि वार्ता खुले मन से हुई और सतलुज यमुना लिंक नहर का निर्माण होना चाहिए। मैत्रीपूर्ण समाधान के लिए सभी रास्ते खुले हैं । दूसरे दौर की वार्ता के उपरांत संपूर्ण विवरण के संदर्भ में सर्वोच्च न्यायालय को अवगत करवाया जाएगा।केंद्रीय जलशक्ति मंत्री ने कहा कि इस प्रथम  उच्चस्तरीय बैठक में दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने अपने- अपने दृष्टिकोण से अपने विचार व्यक्त किए।
              नई दिल्ली में हुई उच्च स्तरीय बैठक में केंद्रीय जल शक्ति राज्य मंत्री श्री रतन लाल कटारिया भी मौजूद रहे। बैठक में जल शक्ति मंत्रालय के सचिव श्री यू पी सिंह व हरियाणा के सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री देवेन्द्र सिंह भी मौजूद रहे।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *