ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में स्थापित किये जाने से पर्वतीय क्षेत्रों के विकास को मिलेगी रफ्तारः तीरथ सिंह रावत

अमर संदेश,दिल्ली। उत्तराखंड के पौड़ी संसदीय क्षेत्र से लोकसभा सांसद तीरथ सिंह रावत ने उत्तराखंड सराकार द्वारा ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में स्थापित किये जाने के निर्णय का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि यह राज्य सरकार का सकारात्मक फैसला है। श्री रावत ने कहा कि गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन राजधानी स्थापित किये जाने से राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों के विकासकार्यों को गति मिलेगी। गौरतलब है कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार ने ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में स्थापित करने का निर्णय लिया है। एक लंबे समय से गैरसैंण में स्थायी राजधानी स्थापित करने की मॉग की जाती रही है। गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन सत्र संचालित करने का फैसला भी मौजूदा सरकार द्वारा पूर्व में लिया गया था और अब ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण से संचालित किये जाने का निर्णय लिया गया है। तीरथ सिंह रावत ने सभी उत्तराखंडियों व देशवासियों को होली समारोह की बधाईयां देते हुए यह भी सुझाव दिया कि होली के अवसर पर जहॉ रंगों के व्यवहार में सावधानीपूर्वक प्राकृतिक रंगों का ही इस्तेमाल करें, वहीं भीड़-भाड़ में होली मनाने से बचें। श्री रावत ने कहा कि कोरोनो वायरस के भारत में दस्तक देने के कारण तथा उत्तराखंड की सीमाओं का चीन के साथ व नेपाल के साथ नजदीकी संपर्क होने के कारण सावधानी बरतना आवश्यक है। श्री रावत ने कहा कि उत्तराखंड सहित राष्ट्र के विकास के लिए भाजपा की सकारात्मक राजनीति के अभियान को आगे बढ़ाने के लिए सभी को आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन राजधानी की स्थापना व संचालन से भाजपा की आम जनोन्मुख नीति को और अधिक बल मिलेगा। श्री रावत ने कहा कि विपक्षी राजनीतिक दलों के भ्रम फैलाने के अभियान को रोकने के लिए हम लोगों को
सोशल मीडिया का भी सोच-समझकर प्रयोग करना चाहिए।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *