नई दिल्ली नगरपालिका परिषद् ने संविधान दिवस मनाया

किशोर नैथानी

भारतीय संविधान को अंगीकृत करने और संविधान निर्माताओं के योगदान को याद करते हुए नई दिल्ली नगरपालिका परिषद् ने  अपने मुख्यालय, क्षेत्रीय कार्यालयों और विद्यालयों में प्रातः संविधान दिवस का आयोजन किया | इस अवसर पर पालिका परिषद् के अध्यक्ष  धर्मेन्द्र ने सभी विभागाध्यक्षों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ संविधान की प्रस्तावना को पढ़ा और सभी को संविधान में उल्लिखित मौलिक कर्तव्यों की शपथ भी दिलाई |

यह कार्यक्रम आज परिषद् मुख्यालय पालिका केंद्र में प्रातः आयोजित किया गया |संविधान सभा के सदस्यों को अपनी श्रद्धांजलि देते हुए पालिका परिषद् अध्यक्ष ने कहा कि  संविधान दिवस मनाने का अपना एक ऐतिहासिक महत्त्व है, इस दिन हमने भारत का संविधान को अंगीकृत किया था, जो बाद में 26 जनवरी – 1950 को लागू हुआ | संविधान दिवस का महत्त्व रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि इस दिन आयोजित की जाने वाली गतिविधियों से हम संविधान में व्यक्त किये गये मूल्यों और आदर्शों को पुनः स्मरण करने और उन्हें सकारात्मक रूप से परिष्कृत करने का मौका मिलता है और नागरिकों को लोकतंत्र को मजबूत करने की दिशा में अपना यथोचित योगदान देने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए भी बल मिलता है | उन्होंने यह भी बताया कि संविधान में उल्लिखित मौलिक कर्तव्यों के प्रति जनता के प्रत्येक वर्ग को जागरूक करने के उद्देश्य से पालिका परिषद् द्वारा पूरे वर्ष 26 नवम्बर – 2020 तक विद्यालयों, आवासीय कल्याण समितियों, मार्किट ट्रेडर्स एसोसिएशनों और कार्यालयों में सेमिनार, दौड़, साईकिल रैली, सांस्कृतिक कार्यक्रम, कार्यशालाओं का आयोजन किया जायेगा  और विद्यालयों में निबंध, चित्रकला और वाद विवाद इत्यादि प्रतियोगिताओं का भी आयोजन होगा |

      पालिका परिषद् सचिव डॉ. रश्मि सिंह ने बताया कि आज पालिका परिषद् के सभी विद्यालयों और क्षेत्रीय कार्यालयों में संविधान दिवस मनाया गया, इसके अंतर्गत संविधान की प्रस्तावना को पढ़ा गया और संविधान में उल्लिखित मौलिक कर्तव्यों की शपथ भी दिलाई गई |

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *