एनयूजे-आई का राष्ट्रीय अधिवेशन 11 सिंतबर को सौ से ज्यादा शहरों में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से होगी चर्चा बेरोजगार हुए पत्रकारों को आर्थिक सहायता देने की मांग

प्रेस विज्ञप्ति

वरिष्ठ संवाददाता
नई दिल्ली। इंटरनेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स से संबद्ध नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स-इंडिया के 11 सितंबर 2020 को आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन में दो हजार से ज्यादा पत्रकार हिस्सा लेंगे। सम्मेलन में मीडिया जगत की प्रमुख समस्याओं पर विचार किया जाएगा। एनयूजे-आई की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की रविवार को हुई एक दिवसीय बैठक में कोरोना काल में अखबार और चैनलों से निकाले गए पत्रकारों को केंद्र और राज्य सरकारों से आर्थिक सहायता देने की मांग की गई। बैठक में बताया गया कि बड़ी संख्या में पत्रकारों के सामने भुखमरी की स्थिति पैदा हो गई है। पत्रकारों को दयनीय आर्थिक हालत के कारण कई पत्रकारों को आत्महत्या भी करनी पड़ी हैं।
एनयूजे-आई के अध्यक्ष रासबिहारी की अध्यक्षता और महासचिव प्रसन्ना मोहंती के संचालन में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से हुई बैठक में कोषाध्यक्ष डा.अरविन्द सिंह, उपाध्यक्ष भूपेन गोस्वामी (गुवाहाटी), पुण्यमराजू ( विजयवाड़ा), प्रदीप तिवारी (भोपाल), रामचन्द्र कन्नौजिया (हरिद्वार), सैयद जुनैद (श्रीनगर), सचिव कमलकांत उपमन्यु (मथुरा), पंकज सोनी (जयपुर), कंडास्वामी (चेन्नई), प्रशांत चक्रवर्ती ( अगरतल्ला) ने हिस्सा लिया। बैठक में तय किया गया कि सभी राज्यों की राजधानियों के साथ प्रमुख शहरों में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से पत्रकार हिस्सा लेंगे।
एनयूजे के पूर्व अध्यक्ष प्रज्ञानंद चौधरी, पूर्व महासचिव शिवकुमार अग्रवाल, दिल्ली जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश थपलियाल, महासचिव के.पी.मलिक, कोषाध्यक्ष नरेश गुप्ता, यूपी जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रतन दीक्षित, पूर्व कोषाध्यक्ष अनिल अग्रवाल, उत्तराखंड इकाई के अध्यक्ष बी डी शर्मा, जम्मू कश्मीर जर्नलिस्ट्स यूनियन के अध्यक्ष सैयद जुनैद, महासचिव सैयद बुखारी, हिमाचल प्रदेश यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के अध्यक्ष राणेश राणा, हरियाणा मीडिया यूनियन के संयोजक बलराम शर्मा, सहसंयोजक विपुल कौशिक, एनयूजे महाराष्ट्र की अध्यक्ष शीतल करडेकर, जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ मध्यप्रदेश के अध्यक्ष खिलावन चंद्राकर, जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ राजस्थान के अध्यक्ष राकेश शर्मा, झारखंड यूनियन जर्नलिस्ट्स के अध्यक्ष रजत कुमार गुप्ता, कार्यकारी अध्यक्ष राजीव नयनम, वेस्ट बंगाल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के महामंत्री दीपक राय, एनयूजे तमिलनाडु के अध्यक्ष मुरुगनंदन, महासचिव कृष्णावेनी, जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ आंध्र प्रदेश के अध्यक्ष पुण्यम राजू, महासचिव युगांधर रेड्डी, तेलंगाना इकाई के अध्यक्ष ए सूर्यप्रकाश राव और अन्य राज्य के पदाधिकारियों ने विभिन्न शहरों में राष्ट्रीय अधिवेशन आयोजित करने के बारे में जानकारी दी।
एनयूजे अध्यक्ष रासबिहारी ने बताया कि सम्मेलन में कोरोना काल में मंदी और छंटनी के शिकार पत्रकारों की समस्याओं पर विस्तृत रूप से चर्चा की जाएगी। साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून बनाने, मीडिया काउंसिल और मीडिया कमीशन के गठन की मांग को जोरदार ढंग से उठाया जाएगा। बैठक में पत्रकारों के खिलाफ फर्जी मुकदमों के आधार गिरफ्तारी करने के खिलाफ आवाज बुलंद की गई। बैठक में तय किया गया कि आर्थिक रूप से कमजोर अखबारों को सहायता दिलाने के लिए केंद्र सरकार से मांग की जाएगी।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *