नरेन्द्र मोदी देश के विकास और गरीबों के कल्याण के लिए प्रयत्नशील रहते हैं : शाह

लोक सभा चुनाव में प्रचंड जीत और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के वाराणसी से दोबारा सांसद बनने के बाद प्रधानमंत्री  के साथ वाराणसी आये भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष  अमित शाह ने पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को हार्दिक धन्यवाद दिया। श्री शाह ने कहा कि मैं काशी में भारतीय जनता पार्टी की ओर से वाराणसी, उत्तर प्रदेश के सभी मतदाताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं को हाथ जोड़ कर आपके आशीर्वाद और अपार स्नेह के लिए प्रणाम करता हूँ। उन्होंने कहा कि नामांकन से पहले काशी दर्शन और माँ गंगा आरती के समय काशी की जनता के प्रचंड जन-समर्थन से यह पहले ही स्पस्ट हो गया था कि चुनाव परिणाम क्या आने वाला है। नामांकन के दिन काशी के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री जी से आग्रह किया था कि आप देश भर में प्रचार कीजिये और काउंटिंग के बाद ही यहाँ आइयेगा। तब आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने पूरे देश में कमल खिलाने वाला तूफानी प्रचार अभियान अपने हाथ में लिया। उन्होंने कहा कि शायद ही ऐसा कोई चुनाव होगा जिसमें कोई प्रत्याशी अपने क्षेत्र में अपने मतदाताओं पर भरोसा करके नामांकन के बाद मतदान होने तक न आये लेकिन  नरेन्द्र मोदी का भरोसा काशी की जनता पर था, पार्टी कार्यकर्ताओं पर था और इस भरोसे को उन्होंने सही साबित किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी में पांच साल के पहले टर्म में विकास की अभी झलक ही दिखाई और मुझे विश्वास है कि अगले पांच वर्षों में काशी विकास की दृष्टि से भी अद्भुत नगरी बनेगी। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि देश के चुनावी इतिहास में नरेन्द्र मोदी ने इस प्रकार की कई शुरुआत की है जो शायद कभी नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि जब  नरेन्द्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री बने तो तब तक उन्होंने पंचायत का भी चुनाव नहीं लड़ा था लेकिन साथियों के अनुभव को अपनी शक्ति बनाकर जिस तरह से अपने दायित्वों का निर्वहन किया, इसका उत्कृष्ट उदाहरण  नरेन्द्र मोदी  ने प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नरेन्द्र मोदी के शपथ लेते समय कई अखबारों ने लिखा था कि मोदी जी को शासन का अनुभव नहीं है,  नरेन्द्र मोदी ने इसे विनम्रता के साथ स्वीकारा भी लेकिन जब एक के बाद एक, चार बार वे गुजरात के मुख्यमंत्री बने तो पूरे विश्व ने स्वीकार किया कि भारत के सबसे सफल मुख्यमंत्री  नरेन्द्र मोदी ही हैं।श्री शाह ने कहा कि काशी की जनता भाग्यशाली है कि उन्हें  नरेन्द्र मोदी जैसा जन-प्रतिनिधि मिला है। मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा हूँ कि वे देश के प्रधानमंत्री हैं, बल्कि मेरा ऐसा मानना उनके जन-प्रतिनिधि के रूप से है। नरेन्द्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए मणिनगर विधान सभा का प्रतिनिधित्व करते थे। जब देश के प्रधानमंत्री पद को सुशोभित करने के लिए उन्हें मणिनगर विधान सभा का प्रतिनिधित्व छोड़ना पड़ा तब मणिनगर गुजरात ही नहीं, बल्कि देश की सबसे विकसित विधानसभाओं में से एक थी, इस प्रकार का विकास वहां हुआ था। उन्होंने कहा कि 2014 में नरेन्द्र मोदी  वाराणसी के साथ-साथ वड़ोदरा से भी लोक सभा चुनाव लड़े थे और जब अपने लोक सभा क्षेत्र को चुनने की बारी आई तो उन्होंने निः संकोच भाव से काशी का चयन किया। उन्होंने कहा कि हम सब जानते हैं कि देश के प्रधानमंत्री की व्यस्तता क्या होती है और वह भी नरेन्द्र मोदी जैसे व्यस्ततम प्रधानमंत्री की जो सतत रूप से देश के विकास और गरीबों के कल्याण के लिए अहर्निश प्रयत्नशील रहते हैं, जो हमेशा चुनौतियों को पार कर यशस्वी तरीके से देश को आगे बढ़ने में विश्वास रखते हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि 2014 से पहले और आज की काशी में बहुत अंतर आया है। उन्होंने कहा कि काशी अन्य क्षेत्रों जैसा नहीं है, काशी विश्व की सबसे पुरातन आध्यात्मिक नगरी है जिसके पास पूरे विश्व का मार्गदर्शन करने की क्षमता है। यहाँ के संस्कार, यहाँ की परम्पराएं और आध्यात्मिक ज्ञान की उंचाई – सबको संभालना, संजोना और इसे आगे बढ़ाना बहुत बड़ी चुनौती है। अभी तो पांच साल का एक ही कार्यकाल पूरा हुआ है और माँ गंगा के घाटों से लेकर सड़क, बिजली, पानी, स्वच्छता – सब कुछ काशी के दिव्य संस्कार के अनुरूप डिटेल प्लानिंग करके आपके जन-प्रतिनिधि  नरेन्द्र मोदी  ने किया है। कई सारे नए प्रोजेक्ट लाये गए हैं जो काशी की गरिमा और महिमा के अनुरूप है। पहले बाबा विश्वनाथ का दर्शन अकेले होता था, आज बाबा विश्वनाथ को अपने पूरे दरबार के साथ एक-साथ लाने का काम  नरेन्द्र मोदी ने किया है। श्री शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को पिछली बार 73 सीटें प्राप्त हुई थी। तब देश भर के राजनीतिक पंडित कहा करते थे कि यह तो एक लहर के कारण हुआ है। 2017 के विधान सभा चुनाव में भी उत्तर प्रदेश की जनता ने प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी में अपना विश्वास अटल रखते हुए भारतीय जनता पार्टी एवं सहयोगियों की झोली में सवा तीन सौ सीटें डाल दीं और पिछले दो वर्षों से योगी आदित्यनाथ और नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश का विकास दिन दुगुना, रात चौगुना हो रहा है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार के विकास का सारा कार्य भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र के अनुरूप ही हो रहा है चाहे वह वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट की बात हो या फिर क़ानून-व्यवस्था को मजबूत करने की बात। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के लिए भाजपा का संकल्प पत्र बनाते समय ही यूपी के विकास की रूप-रेखा तय कर दी थी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि पहले कहा जाता था कि उत्तर प्रदेश में चुनाव विकास के आधार पर नहीं, बल्कि जाति-पाति, परिवारवाद और तुष्टिकरण के आधार पर जीते जाते थे लेकिन आज यूपी में ये दीवार भी धराशायी हो गई है क्योंकि यूपी दो साल में ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बताये विकास के रास्ते पर आगे चल पड़ा है। श्री शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जब गठबंधन हुआ तो पूरे देश भर के पत्रकार अंदाजा लगाते थे कि इस बार नरेन्द्र मोदी की पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं बनेगी लेकिन पार्टी ने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि हम चुनाव में 50 फीसदी वोट की लड़ाई लड़ने की तैयारी करें चाहे जिसका भी गठबंधन हुआ हो। उन्होंने कहा कि मैं काशी की जनता को विशेष रूप से धन्यवाद देना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में 50 फीसदी मत हासिल करके राजग ने जनादेश प्राप्त किया। हम और अधिक जोश और उत्साह के साथ ‘सबका साथ, सबका विकास’ की नीति पर काशी, उत्तर प्रदेश और देश के विकास के लिए संकल्पबद्ध होंगे, यह हमारा मूल मंत्र है।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *