मंजुघोषेश्वर महादेव कांडा मेले में उमड़ा जन सैलाब

जगमोहन डांगी
पौड़ी जनपद के रावतस्य पट्टी के कांडा देहलचौरी में दो दिवसीय मेले में  दूसरे दिन भी दो दर्जन स्थानीय गांवो तीन दर्जन निशान  परंपरानुसार मां भगवती की डोली ढोल नगाड़ों के साथ सिद्धपीठ मंजुघोषेश्वर महादेव मंदिर पहुची मां भगवती की डोली अब परंपरानुसार एक महीने तक मंदिर में ही रहेगी जानकर बताते है,
की मनौतियां पूर्ण होने पर श्रद्धालुओं को ओर से मां भगवती को निशान चढ़ाए जाते है। प्रचीनकाल से दीपावली पर्व ठीक दूसरे दिन सुरु होने वाला कांडा मेला अपनी प्रसिद्धि के लिए बख्यात है।
इस वर्ष भी विधिविधान के साथ दो दिवसीय मेला कड़ी सुरक्षा ब्यवस्था के साथ सम्पन हो गया पूरे गढ़वाल में पशुबलि के लिए प्रसिद्ध रहा इस स्थल पर अब बलिप्रथा खत्म हो खत्म हो चुकी है। किदवंती है कि कामदाह पर्वत पर माता चन्द्रबदनी की छोटी बहिन मंजुमति तपस्या में लीन थी जिसे दो राक्षको द्वारा भंग करने की कोशिश की गई जिस पर शिवजी ने मां काली का आह्वान कर मंजुमति के रूप में उनका बध किया मंदिर में लगने वाले मेले भक्त भक्तियमय देवधुनो पर थिरकते हुए देवी पर ध्वजारूपी निशान चड़ाकर लौट जाते है।  पूरा मन्दिर प्रागण का माहौल  भक्तिमय हो जाता है।
मेले देश प्रदेश भारी संख्या में प्रवासी लोग इन दिनों गांव आए है। वही इस मेले में दिशा -ध्यानी भी अपने मायके पहुची है। जिन गांव के मां के निशान मंदिर में चड़ाए गए उनमे उफलड़ा, झिरकोटी,कांडा, बड़ाकांडा,सापला,ख़्वाडधार,पाली,कण्डार,बेंनकडी, मंजकोट, आदि गांव के निशान मंदिर ढोल नगाड़ों के साथ जय जय मंजुघोषश्वर महादेव करते हुए मंदिर पहुचे वही स्थानीय मेलार्थियों जमकर खरीदारी भी की कांडा मेला समिति के अध्यक्ष दुर्गा प्रसाद भट्ट ने मेले स्थल पर सुरक्षा ब्यवस्था एवं मेले में शांति पूर्वक सम्पन के लिए पुलिस प्रशासन एवं श्रद्धालुओं का आभार ब्यक्त किया इस अवसर पर प्रेम लाल ,वेद प्रकाश भट्ट। समिति के पदाधिकारी मौजूद रहे।
Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *