इंडो-जॉर्जियाई सांस्कृतिक उत्सव बाल शिक्षा एंव विकास हेतु नवाचारों की दिशा में एक अनूठी पहल

अमर संदेश, दिल्ली। भारत इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित इंडो-जॉर्जियाई सांस्कृतिक समारोह के दौरान भारतीय शास्त्रीय नृत्य कत्थक और जॉर्जियाई लोकनृत्य अचरौली की जुगलबंदी के साथ प्रस्तुत किए गए फ्यूजन को दर्शकों ने काफी सराहा।
सोसायटी फॉर आल्राउंड डेवेलपमेंट (सार्ड) और जॉर्जिया के सांस्कृतिक संगठन कल्चरल डायमेंशन फॉर पीसफुल फ्यूचर द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित इंडो-जॉर्जियाई सांस्कृतिक उत्सव शिशु एवं बाल शिक्षा और विकास के लिए नवाचारों की दिशा में एक महत्वपूर्ण पुरस्कार है। इस उत्सव में भारत और जॉर्जिया के छात्र-छात्राओं ने अपने-अपने देश की संस्कृति व सभ्यता पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम द्र विधा के जरिये किए गए हैं। सार्ड ने इस उत्सव के लिए जॉर्जिया के लशि जियोर्गी और लक्ष्मी नामक दो नृत्य समूहों को आमंत्रित किया था।
उत्सव के दौरान जॉर्जियाई, लशि जियोर्गी नृत्य समूह ने अपने देश जॉर्जिया की समृद्ध संस्कृति को दर्शाते हुए गंडागाना, परिकोबा, काजेगुरी, मितुलुरी और अकरौली लोकनृत्य प्र्रस्तुत रूप से अपने दर्शकों को काफी आनंद लिया। लक्ष्मी नृत्य समुह ने भारतीय शास्त्रीय नृत्य, कत्थक की शानदार प्रस्तुति से दर्शकों को मन मोह लिया। दोनों के दलों ने जुगलबंदी करते हुए जॉर्जिया के लोकनृत्य अचरौली और भारत के शास्त्रीय नृत्य कत्थक को शामिल करते हुए जो संयुक्त (फुनज) प्रबंधन पेश की जिसे दर्शकों ने काफी सराहा। भारत के विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने भी इस उत्सव में अपनी प्रस्तुतियाँ पेश की।दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के स्कूल की छात्राओं ने मूल्यांकन का प्रसिद्ध ‘घूमर’ लोकनृत्य प्रस्तुत किया।हरियाणा के गुरूग्राम के माकारोला विद्यालय के छात्रों ने योगासनों का शानदार प्रदर्शन करते हुए तन-मन के समन्वयमेल से स्वस्थ जीवन जीने का संदेश दिया। सार्ड के कर्मचारियों ने जॉर्जिया के मेहमानों के सम्मान में असम का ‘बीहू’ लोकनृत्य पेश किया। इस उत्सव के सफल आयोजन हेतू मेरेली इण्डिया व दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के द्वारा दिए गए सराहनीय सहयोग हेतू आयोजकों ने उनका आभार जताया। आयोजकों ने सभी आमंत्रित सदस्य, व्यूको, प्रतिभागी कलाकरों व मीडिया कर्मियों का आभार व्यक्त किया। बुकिंग का उद्घाटन दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ।
इस अवसर पर अपने संबोधन के दौरान उत्तरी दिल्ली नगर निगम के आयुक्त ज्ञानेश भारती ने सार्ड के प्रयासों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस तरह के सांस्कृतिक आयोजनों से, दोनों देशों में शैक्षणिक और कलात्मक नवाचारों के क्षेत्र में सहयोग और विकास में काफी सहायता मिलेगी। इस उत्सव में केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के उत्तरी क्षेत्र के निदेशक डॉ। सौभाग्य वर्धन, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त् राहुल गर्ग, मेरेली इण्डिया के प्रबंध निदेशक साजू मोककेन, कल्चरल डायन फॉर पीसफुल फ्यूचर के पदाधिकारी डॉ। दर्पण, जॉर्जिया के अभिनेता व नृत्य निर्देशक निकोलोज सलुकिद्जे, केंद्रीय स्वास्थ्य सेवाओं के अतिरिक्त महानिदेशक डॉ। रविन्द्र अग्रवाल हरियाणा एससीईआरटी के निदेशक डॉ।किरण मेई हिन्दुस्तान पेट्रोलियम के सामाजिक सेवा कार्य प्रमुख आशीष सहायता ने बतौर अतिथि शिरकत करते हुए प्रतिभागियों और आयोन्माद का उत्साह वर्धन किया। सभी शिक्षण व गणमान्य नागरिकों एव सार्ड और सीडीपीएफ जॉर्जिया द्वारा आयोजित उत्सव की प्रशंसा करते हुए इसे हमारे देश में कलात्मक विकास की दिशा में एक नया पहल करार दिया।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *