केदारनाथ विधानसभा में बाहरी प्रत्याशी से होगा भाजपा को नुकसान क्षेत्रीय दावेदारों का कहना

केदारनाथ विधानसभा से भाजपा में मचा घमासान बाहरी प्रत्याशी का हो रहा है जोर शोर से विरोध सोशल मीडिया इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर डॉ हरक सिंह रावत का नाम चलने के बाद केदारनाथ विधानसभा इस बार के टिकट के लिए अपनी अपनी दावेदारी करने वाले सभी क्षेत्रीय दावेदारों ने केंद्रीय नेतृत्व को एक चिट्ठी लिख कर भेजी है जिसमें उन्होंने डॉ हरक सिंह रावत का विरोध किया है,

उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय किसी को भी प्रत्याशी घोषित करें पार्टी नहीं तो भाजपा को इस सीट से हाथ धोना पड़ सकता है, सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित केंद्रीय नेतृत्व एवं प्रदेश अध्यक्ष सहित उत्तराखंड प्रभारी को भी यह चिट्ठी भेजी है लगता है केदारनाथ विधानसभा क्षेत्र से अपनी दावेदारी कर रहे प्रत्याशी अपने-अपने स्तर पर बाहरी प्रत्याशी का पूर्ण जोर से विरोध करते दिख रहे हैं। कई जगह सोशल मीडिया पर अखबारों में भी उनका विरोध देखने को मिल रहा है।
लगता है इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी की चुनाव समिति को दोबारा से सोचना पड़ सकता है क्योंकि लोगों का मानना है कि उनको उनके ही क्षेत्र का प्रत्याशी चाहिए ना कि बाहरी थोपा हुआ।
लोगों का कहना है की हर बार हरक सिंह रावत क्यों अपनी सीट बदल देते है। पौड़ी, रुद्रप्रयाग, कोटद्वार व अनेको सीट से लड़ने के बाद फिर नई सीट पर हर बारी जाने के कारण भाजपा के केदारनाथ सीट के समस्त जिला पदाधिकारी एवं वरिष्ठ कार्यकर्ताओं में बहुत ज्यादा रोष नाराजगी प्रकट कर रहे हैं । कार्यकर्ता इस बार ख़ुद को हरक सिंह रावत से ठगने से अच्छा है अपने अपने घरों में बैठकर निर्दलीयों को जीतने का मन बना बैठे हैं। अगर भाजपा शीर्ष नेतृत्व इस सीट पर इस बार कमल खिलना चाहती है तो स्थानीय प्रत्याशी को टिकट देगी तो जीत निश्चित है।अन्यथा भाजपा को फिर हार का मुंह देखना पड़ेगा।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *