स्वच्छता स्वभावगत और संस्कारगत होना चाहिए- – तोमर

स्वच्छता के महत्व के प्रति सभी को गंभीरता से ध्यान देना चाहिए—नरेंद्र सिह तोमर

दिल्ली। स्वच्छता अभियान के तहत कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कृषि भवन का निरीक्षण किया और यहां स्थित सभी मंत्रालयों के अधिकारियों के साथ एक बैठक में साफ-सफाई एवं विभिन्न कार्यालयों के लंबित मामलों के निपटारे की समीक्षा की गई। इस दौरान श्री तोमर ने कहा कि स्वच्छता स्वभावगत और संस्कारगत होना चाहिए और हमारे स्वभाव में रचना-बसना चाहिए। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने स्वच्छता के लिए देशव्यापी अलख जगाई है, जिसके सद्परिणाम भी सामने आए हैं और व्यापक रूप से जागरूकता का प्रसार हुआ है।

समीक्षा बैठक में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री श्री कैलाश चौधरी व कृषि सचिव श्री संजय अग्रवाल सहित कृषि, ग्रामीण विकास, उपभोक्ता मामलों व खाद्य वितरण, सहकारिता, पशुपालन तथा अन्य मंत्रालय/विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। श्री तोमर ने कहा कि स्वच्छता अभियान के अंतर्गत जो अपेक्षा हम जनता से करते हैं, उसका पालन सभी भवनों व कार्यालय परिसरों में भी किया जाना चाहिए। स्वच्छता के महत्व के प्रति सभी को गंभीरता से ध्यान देना चाहिए। श्री तोमर ने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि कार्यालयों से संबधित लोक शिकायतों, संसदीय विषयों तथा अन्य लंबित मामलों का शीघ्रातिशीघ्र निराकरण किया जाएं।

इस दौरान अधिकारियों ने बताया कि कृषि भवन में साफ-सफाई का विशेष अभियान चलाया जा रहा है, जिसके तहत पुरानी अनुपयोगी फाइलों का निष्पादन किया गया है व यह कार्य आगे भी जारी रहेगा। तथा भवन के भीतर और बाहर निरंतर स्वच्छता बनाए रखने के लिए साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। गत दो अक्टूबर से प्रारंभ विशेष अभियान के तहत अभी तक 4 ट्रक स्कैप व अन्य सामग्री कृषि भवन से बाहर भिजवाई गई है।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *