बाबा साहब ने भारत को बदलने का कार्य किया – मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि बाबा साहेब अम्बेडकर ने भारत को बदलने का कार्य किया है। बाबा साहेब ने पहली बार महिलाओं को पुरूषों के समान मताधिकार, वेतन देने, काम के घंटे बारह से घटाकर आठ करने और प्रसूति अवकाश दिलवाने, समाज के पिछड़े वर्गों के लिये विशेष प्रावधान करने, दामोदर घाटी की सिंचाई परियोजनाओं की परिकल्पना और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना आदि कार्य की पहल है। बाबा साहेब महामानव थे, जिन्होंने पूरा जीवन कमजोर वर्गों के हक के लिये संघर्ष किया। प्रदेश सरकार उनके बताये रास्ते पर चल रही है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान अम्बेडकर पार्क में बोधिसत्व डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर संयुक्त जयंती महोत्सव समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अनुयाइयों को 30 अप्रैल को मुख्यमंत्री निवास में बुद्ध जयंती कार्यक्रम में शामिल होने का आमंत्रण दिया है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार ने कमजोर वर्ग की मदद के लिये जीवन चक्र में अंत तक की जिम्मेदारियों में सहयोग की योजनायें लागू की हैं। कक्षापहली से लेकर पीएचडी तक की नि:शुल्क शिक्षा छात्रवृत्ति, आश्रम शालायें, श्रमोदय विद्यालय संचालित किये हैं। हर गरीब को रहने लायक भूमि के टुकड़े का मालिक बनाया है। उन्हें पक्के मकान भी दिये जा रहे हैं। गर्भवती माताओं को पोषक भोजन के लिये गर्भावस्था अवधि में चार हजार और प्रसूति उपरांत 12 हजार रूपए देने और ऐसी अनेक सामाजिक सुरक्षा की योजनाओं से मेहनतकश को लाभान्वित करने के लिये पंजीयन का कार्य भी किया जा रहा है। उन्होंने बाबा साहेब की जन्म स्थली महू में अम्बेडकर महाकुंभ के आयोजन की व्यवस्थाओं की जानकारी दी। बताया कि जन्म दिवस के अवसर पर आने वाले श्रद्धालुओं का मेहमानों के रूप में स्वागत,सम्मान किया जाता है। भोजन, विश्राम आदि की व्यवस्थायें की जाती हैं। उन्होंने पंच तीर्थों पर बने स्मारकों की जानकारी भी दी।
कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अम्बेडकर उद्यान में बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा कि बाबा साहब अम्बेडकर की मंशा और उनके द्वारा जगाई गयी चेतना के अनुसार राज्य सरकार काम कर रही है। गरीब और महिलाओं के कल्याण के लिये किये गये कार्यों की विश्व को जानकारी देने के लिये मुख्यमंत्री को विश्व बैंक ने बुलाया था। प्रदेश में कोई भूखा नहीं सोये, इनकी चिंता भी सरकार ने की है। असंगठित श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा और मेधावी छात्रों को प्रोत्साहित करने जैसी अनेक योजनायें राज्य सरकार ने बनाई है।
कार्यक्रम को मोहनलाल पाटिल ने भी संबोधित किया। स्वागत भाषण समिति अध्यक्ष रामू गजभिये ने दिया। आभार प्रदर्शन सोमकुंवर ने किया। संचालन बामन जंजाले ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: