उत्तराखंड के आईएएस मंगेश घिल्डियाल को प्रधानमंत्री कार्यालय मे जिमेदारी मिलने पर प्रदेश के लोगों में खुशी की लहर

देहरादून।वर्तमान में टिहरी जिले के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल को केंद्र सरकार में बड़ी जिम्मेदारी मिली है।  ज्ञात पिछले दिनो देश के 50 लोकप्रिय जिलाधिकारियों की सूची में  भी श्री घिल्डियाल का नाम शामिल था,जिससे प्रदेश सहित उनके गाँव डांडयू धुमाकोट क्षेत्र के लोगों में खुशी की लहर देखने को मिली। उत्तराखंड के धुमाकोट क्षेत्र के डांडूय गाँव के सामान्य शिक्षक परिवार से ताल्लुक रखने वाले कर्मठ जुझारू मृदुभाषी, मंगेश घिल्डियाल को प्रधानमंत्री कार्यलय मे बडी जिम्मेदारी ही कि यह खबर उनके क्षेत्र के लोगों को मिली ,उनके पैतृक गाँव के लोगों में खुशी की लहर देखने को मिली।
ज्ञात हो रुद्रप्रयाग जनपद के पूर्व जिलाधिकारी व टिहरी जनपद के वर्तमान जिलाधिकारी आईएएस अधिकारी मंगेश घिल्डियाल को प्रधानमंत्री कार्यालय में अंडर सेक्रेट्री के तौर नियुक्त किया गया है,सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी रहते हुए श्री मंगेश घिल्डियाल द्वारा कराए गए केदारनाथ के पुनर्निर्माण कार्यों से पीएम मोदी खासे प्रभावित हुए थे। इसके अलावा रुद्रप्रयाग और टिहरी के डीएम रहते हुए उन्होंने कोरोना महामारी को रोकने में खासा काम किया।

प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी आदेश में बताया गया है कि आईएएस मंगेश घिल्डियाल 4 वर्षो के लिए प्रतिनियुक्ति पर प्रधानमंत्री कार्यालय में अंडर सेक्रेट्री के तौर पर कार्यभार ग्रहण करेंगे,ज्ञात हो डीएम मंगेश घिल्डियाल जी, जो हमेशा गरीब बच्चो की मददत करते रहते है श्री मंगेश घिल्डियाल जनता के लिए, जनता के बीच जाकर उनकी समस्या सुनकर तुरंत ही समस्या का समाधान करते हैं। और जरूरत पड़ने पर वह चौपाल लगाते हैं और जनता की शिकायतों का यथासंभव समाधान करते रहे। मंगेश घिल्डियाल 2011 बैच के IAS अफसर है जिन्होंने पूरे देश में चौथी रैंक हासिल की थी।   आईएएस अधिकारी मंगेश घिल्डियाल को तीन सप्ताह के अन्दर कार्यभार ग्रहण करने के लिए कहा गया है।आईएएस मंगेश घिल्डियाल का जन्म पौड़ी जिले के डांडयू गांव में हुआ,उनके पिता प्राइमरी स्कूल में हेडमास्टर रहे, जो सेवानिवृत्त होने के बाद लोगों को जागरूक कर पैतृक कार्य को कर समाज के लोगों की सेवा करते रहते हैं, और माता गृहणी हैं। श्री मंगेश घिल्डियाल की प्राथमिक शिक्षा डांडयू गांव मे ही हुई। इससे आगे की पढ़ाई के लिए वे गांव से पांच किमी दूर राजकीय उच्चतर प्राथमिक विद्यालय पटोटिया जाते थे। इसके बाद वो रामगनर चले गये और वही पर नौवीं से लेकर ग्रैजुएशन तक की पढ़ाई की| आईएएस मंगेश घिल्डियाल की इस नियुक्ति से क्षेत्र के युवा लोगों के लिए भी एक प्रेरणा है कि सरकारी स्कूल से पढ़ने वाले एक सामान्य से परिवार के आईएएस श्री घिल्डियाल ने अपनी मेहनत और लगन के बल पर आज क्षेत्र के साथ-साथ पूरे प्रदेश का नाम रोशन कर दिया है।जो युवा सरकारी स्कूलों से शिक्षा ग्रहण कर रहे है,उनके लिए भी युवा आईएएस मंगेश घिल्डियाल एक प्रेरणादायक है ।आईएएस मंगेश घिल्डियाल जी ज्यादातर गढ़वाली में लोगो से बात करते है वो हमेशा लोगो की मदत और समस्या को हल करते है हाल में उनका तबादला टिहरी गढ़वाल में हुआ तो रुद्रप्रयाग के लोग धरना प्रदशन करने लग गए थे। आईएएस ऑफिसर मंगेश घिल्डियाल का प्रधानमंत्री कार्यालय में पहुंचने पर उत्तराखंड के लोगों को अति खुशी है। लोगो कहना है आईएएस श्री घिल्डियाल उत्तराखंड की भौगोलिक परिस्थितियों के साथ यह की समस्याओं से भलीभांति परिचित है जिससे कि आने वाले समय में प्रदेश की समस्याओं से निजात मिलने की उम्मीद भी लगाए हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: