भारत ऊर्जा सप्ताह के दौरान ऑयल इंडिया लिमिटेड की हाइड्रोजन बस को झंडी दिखाकर रवाना किया प्रधानमंत्री ने 

 

बेंगलुरु।बेंगलुरु में भारत ऊर्जा सप्ताह के दौरान छह फरवरी, 2023 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ऑयल इंडिया लिमिटेड (ऑयल) द्वारा स्वदेश में विकसित हाइड्रोजन ईंधन से चलने वाली ई-बस को झंडी दिखाकर रवाना किया।इस ओके पर उनके साथ कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, केंद्रीय पेट्रोलियम राज्य मंत्री रामेश्वर तेली भी मौजूद रहे।

 

राष्ट्रीय हाइड्रोजन अभियान और आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना के क्रम में आयल ने अपने स्टार्ट-अप कार्यक्रम (स्नेह) के तहत स्वदेश में विकसित हाइड़्रोजन ईंधन पर चलने वाली बस को विकसित किया है।

 

यह बस बैटरी और फ्यूल सेल का मिला-जुला संस्करण है। फ्यूल सेल में हाइड्रोजन का इस्तेमाल किया जाता है, जो बिजली पैदा करता है और बिजली से चलने वाली मोटर काम करने लगती है। यह सहायक बैटरी को चार्च भी करता है तथा गति बढ़ाने और ब्रेक लगाने के दौरान बैक-अप शक्ति प्रदान करता है। फ्यूल सेल की क्षमता 60 किलोवॉट है और इसमें बिजली पैदा करने के लिये प्रोटॉन एक्सचेंज मेम्ब्रेन प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया गया है। बस में लगी टंकी की क्षमता 21.9 किलोग्राम है, जिसका बार-प्रेशर 350 है।

 

बस को इस तरह डिजाइन किया गया है कि उसमें ड्राइवर सहित 32 लोग बैठ सकते हैं। इसमें व्हील-चेयर के लिये भी जगह है।

 

ऑयल इंडिया लिमिटेड के बारे में

 

ऑयल इंडिया लिमिटेड (ऑयल) भारत की ऊर्जा सुरक्षा के लिये प्रतिबद्ध सबसे पुरानी खोज व उत्पादन कंपनी है। ऑयल भारत में पेट्रोलियम उद्योग के विकास और प्रगति का प्रतीक है। ऑयल कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस की खोज व उत्पादन, तरल पेट्रोलियम गैस के उत्पादन और कच्चे तेल व पेट्रोलियम उत्पादों के आवागमन की अग्रणी कंपनी है।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *