कोराना वायरस की वैश्विक महामारी से निपटने में ऑल इंडिया एससी/एसटी रेलवे एम्प्लाइज एसोसिएशन द्वारा प्रधानमंत्री राहत कोष में आर्थिक सहायता।

जयपुर,।इस समय विश्व के साथ हमारा देश भी एक विषाणु रोग से रात दिन एक होकर मुकाबला कर रहा भारत सरकार ने कई घोषणा कर देश हर नागरिक को राहत पहुचने के साथ देश को लाँकडाउन कर इस रोग को देश को मुक्त करने मे लगे ,वही ऑल इंडिया एससी/एसटी रेलवे एम्प्लाइज एसोसिएशन ने सम्पूर्ण भारतीय रेल व उत्पादन इकाइयों में कार्यरत लगभग 3.50 लाख एससी/एसटी रेल कर्मचारियों के वेतन में से एक दिन का वेतन उनके मासिक वेतन में से कटौती करवाकर लगभग 70,00,00,000/- (सत्तर करोड़) रुपये प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करवाने की घोषणा की है। जो एक बहुत ही सहरानीय पहल है। उल्लेखनीय है कि रेलवे में कार्यरत लगभग 3.50 लाख एससी/एसटी रेल कर्मचारियों का प्रतिदिन प्रति कर्मचारी औसतन लगभग 2000/- रुपये होता हैं, इस तरह लगभग 70,00,00,000/- (सत्तर करोड़) रुपये सीधे प्रधानमंत्री रहत कोष में जमा होंगे।

एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री बी एल बैरवा ने बताया कि कोराना वायरस को वैश्विक महामारी घोषित कर दिया गया है जिससे निपटने के लिए भारत सरकार एवं समस्त राज्य सरकारें भरसक प्रयास कर रही हैं तथा कई औधोगिक संस्थान व सामाजिक संस्था प्रधानमंत्री राहत कोष में पैसा जमा करवाकर आर्थिक मदद के लिए आगे आ रहे हैं। हमारे देश के प्रधानमंत्री स्वयं दिन रात इसे मॉनिटर कर रहे हैं। रेल मंत्रालय ने सभी यात्री ट्रैन रद्द कर दी हैं व पूरे देश में लॉक डाउन घोषित कर दिया है। ऐसी विकट परिस्थिति में ऑल इंडिया एससी/एसटी रेलवे एम्प्लाइज एसोसिएशन की केंद्रीय कार्यकारिणी ने अपनी मानवीय जिम्मेदारियों को समझते हुए तय किया है कि वह सम्पूर्ण भारतीय रेल व उत्पादन इकाइयों में कार्यरत लगभग 3.50 लाख एससी/एसटी रेल कर्मचारियों के वेतन में से एक दिन का वेतन उनके मासिक वेतन में से कटौती करवाकर सीधे ही प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करवाने का कार्य करेगी।
एसोसिएशन अपने इस संकल्प/निर्णय को पूरा करने के लिए देशव्यापी अभियान चलाएगी तथा इस राष्ट्रीय आपदा में अपना योगदान देगी। इस सन्दर्भ में माननीय प्रधानमंत्री जी व् माननीय रेलमंत्री जी को पत्र लिखकर आवश्यक सहयोग करने का अनुरोध किया है।

एसोसिएशन की केंद्रीय कार्यकारिणी ने अपने उक्त संकल्प/निर्णय को पूरा करने के लिए सम्पूर्ण भारतीय रेलवे व् उत्पादन इकाइयों की जोनल कार्यकारिणियों को पत्र लिखकर अपना सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया है तथा मोबाइल फ़ोन पर संपर्क कर एवं सोसियल मीडिया, फेसबुक, व्हाट्सप्प के माध्यम से सघन अभियान चलाकर सभी एससी/एसटी रेल कर्मचारियों को इस हेतु प्रेरित करने का आव्हान किया है। उक्त के अलावा सभी जोनल रेलवे व उत्पादन इकाई के महाप्रबंधक व प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी से संपर्क कर सर्वसम्बंधित को निर्देश जारी करने का अनुरोध किया है कि जब तक कि कोई अनिच्छा प्रकट न करे, सभी एससी/एसटी रेल कर्मचारियों के वेतन में से एक दिन के वेतन की कटौती कर प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करवायी जाये।

एसोसिएशन के उक्त कदम की चारों तरफ प्रशंसा हो रही है तथा उम्मीद है कि इससे प्रेरित होकर अन्य कर्मचारी, अधिकारी संगठन व् सामाजिक संगठन आगे आएंगे ।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *