47वें विश्व पर्यावरण दिवस पर अधिकाधिक पौधारोपण करने का संकल्प ले: दयानंद वत्स

दिल्ली।नेशनल एजुकेशनल मीडिया नेटवर्क के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिक्षाविद् दयानंद वत्स ने आज बरवाला में 47वें विश्व पर्यावरण दिवस पर अधिकाधिक पौधारोपण करने का स्वयं भी संकल्प लिया और लोगों से भी वृक्षारोपण की अपील की। वत्स ने कहा कि कोरोना काल में इस बार पहली बार ऑक्सीजन की मारामारी रही। जबकि ऑक्सीजन का प्राकृतिक स्रोत पेड हैं।

पेडों की अंधाधुंध कटाई से भी पर्यावरण संतुलन बिगडा है। इसलिए सभी को चाहिए कि पौधारोपण कार्य में बढ चढकर भाग लें। वत्स ने कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस की इस वर्ष की थीम है ईको सिस्टम रेस्टोरेशन अर्थात पारिस्थितिकी तंत्र बहाली। इसका अर्थ है पृथ्वी को एक बार फिर से अच्छी अवस्था में लाना।  इसके लिए युद्ध स्तर पर जागरुकता अभियान चलाए जाने की जरुरत है ताकि हम अपने पर्यावरण को जीने लायक बना सकें। पौधारोपण के साथ साथ नदियों के जल को स्वच्छ रखना होगा। उधोगों से निकलने वाले धुएं से

लोगों को बचाने के लिए जीरो टालरेंस नीति पर अमल करना होगा। प्रदूषण मुक्त वातावरण में जीने का सभी का मौलिक अधिकार है। इस पर्यावरण की रक्षा के लिए वायु, थल.और ध्वनि प्रदूषण पर सरकार को लगाम लगानी होगी। कोरोना काल पार्ट वन में जब लाकडाउन लगा था तब पर्यावरण एकदम दुरुस्त हो गया था। आसमान नीला था। रात को तारे स्पष्ट दिखाई देते थे। हवा बिल्कुल साफ थी। लेकिन जैसे ही लाकडाउन खत्म हुआ फिर पहले जैसी स्थिति हो गई। इसलिए पर्यावरण की रक्षा के लिए हम सबको मिलकर काम करना होगा। सांसों के निरंतर चलने के लिए जैसे शुद्ध हवा चाहिए वैसे ही पौधारोपण करना और पेडों की देखभाल करना भी हमारी दिनचर्या का हिस्सा होना चाहिए।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *