कौशल विकास के साथ उद्यमिता के क्षेत्र में भविष्य तलाशें भूमिहार ब्राह्मण समाज के युवा- डॉ. रतन शर्मा

*पूर्वांचल भूमिहार ब्राह्मण परिवार ट्रस्ट ने मनाया मकर संक्रांति स्नेह मिलन समारोह*

नयी दिल्ली, 20 जनवरी। पूर्वाचल भूमिहार ब्राह्मण परिवार ट्रस्ट ने शिक्षा, रोजगार, कारोबार, व्यापार एवं उद्यम की तलाश में जुटे अपने समाज के युवाओं और युवतियों को उचित मार्गदर्शन देने का संकल्प लिया है। मकर संक्रांति के अवसर आयोजित स्नेह मिलन समरोह में यह घोषणा की गयी।
राष्ट्रीय राजधानी के गाजियाबाद स्थित श्री सनातन धर्मशाला, श्याम पार्क में रविवार को मकर संक्रांति के अवसर पर वार्षिक स्नेह मिलन समारोह का आयोजन किया गया। सम्मेलन को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के अध्यक्ष व ट्रस्ट के चेयरमैन डाॅ. रतन शर्मा ने कहा कि अपने समाज के युवाओं और युवतियों को कौशल विकास तथा उद्यमिता के क्षेत्र में आगे बढ़ने का प्रयास करना चाहिये। सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि आर्थिक मजबूती व्यक्ति को सशक्त बनाती है और जब व्यक्ति मजबूत होता है तो वह समाज की मुख्य धारा से जुड़कर परिवार, समाज व राष्ट्र को भी मजबूती देता है। उन्होंने कहा कि स्वावलंबी समाज ही देश को आत्मनिर्भर बना सकता है। साथ ही उन्होंने उद्योग धंधे के लिए इच्छुक युवाओं एवं युवतियों को मार्गदर्शन देने की घोषणा की।
समारोह को संबोधित करते हुए वरिष्ठ इतिहासकार एवं सामाजिक चिंतक डाॅ. आनंद वर्धन ने भूमिहार ब्राह्मण समाज के गौरवशाली इतिहास पर विस्तार से प्रकाश डाला। समाज के लोगों से अपनी युवा पीढ़ी को इस विरासत से अवगत कराने की जरूरत पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि युवा वर्ग को तकनीकी एवं उच्च शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने का प्रयास करना चाहिये। उन्होंने घोषणा की कि जो भी युवा उच्च शिक्षा व प्रशासनिक सेवा की तैयारी के इच्छुक हैं उन्हें न सिर्फ समुचित मार्गदर्शन दिया जायेगा, बल्कि उत्कृष्ट कोचिंग संस्थानों मे रियायती शुल्क के साथ प्रवेश की सुविधा भी प्रदान की जायेगी। साथ ही उन्होंने समाज में दहेज व अन्य कुरीतियों को दूर करने का आह्वान भी किया।
वरिष्ठ अर्थशास्त्री एवं शिक्षाविद् डाॅ. दलीप कुमार ने समाज के युवाओं एवं युवतियों को स्वावलंबी बनने का आह्वान करते हुए कहा कि समाज के जो विद्यार्थी अर्थशास्त्र के क्षेत्र में उच्च शिक्षा ग्रहण करना चाहते हैं, वे उनसे मार्गदर्शन ले सकते हैं। कार्यक्रम में उपस्थित सदस्यों ने इन घोषणाओं की सराहना की और सामाजिक कुरीतियों को समाप्त करने का संकल्प लिया।
कार्यक्रम के दौरान कोविड-19 से जुड़े सरकारी दिशानिर्देशों का पालन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्जवलन एवं पूर्वांचल भूमिहार ब्राह्मण परिवार ट्रस्ट के मुख्य संस्थापक ट्रस्टी स्वर्गीय वीरेन्द्र राय के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पण के साथ हुई। कार्यक्रम के दौरान ट्रस्ट के गाजियाबाद अध्यक्ष उपेन्द्र राय, सचिव सीके सिंह, एनसीआर अध्यक्ष एडवोकेट एलबी राय एवं मुख्य सलाहकार, पूर्व प्रधानाचार्य योगेंद्र राय जी ने भी समाज की दशा-दिशा पर अपने विचार व्यक्त किये। इस दौरान ट्रस्ट की उपलब्धियों और कमियों पर खुले दिल से चर्चा की गयी एवं भावी कार्यक्रमों की रूपरेखा प्रस्तुत की गयी।
कार्यक्रम के समापन के बाद आगंतुकों ने परंपरागत भोजन दही- चूरा, खिचड़ी और अन्य व्यंजनों का आनंद लिया। इस अवसर पर हरेंद्र राय,एके ठाकुर, रमेश राय, रामजी राय, शम्भू शरण सिंह, जेपी सिंह, एडवोकेट आरके राय, भानु प्रताप राय, शशिभूषण राय, अभय राय, ओमकार राय, जितेन्द्र सिंह, शशिकांत राय, देवेश राय, बृजेश राय, रामाशीष राय, आनंद बिहारी राय, पीके राय, सुभाष राय एवं ट्रस्ट के सभी पदाधिकारी और कार्यकारिणी के सदस्य मौजूद रहे।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *