इंडियन ऑयल के डीलरों को बेहद कम ब्याज दर पर वित्तीय समाधान उपलब्ध कराया जाएगा – राजीव पुरी

नई दिल्ली,10 फरवरी 2021: देश के सबसे बड़े सरकारी बैंकों में से एक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने आज इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के साथ एक द्विपक्षी समझौते (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया जिसके तहत इंडियन ऑयल के डीलरों की वित्तीय जरूरतों को पूरा किया जाएगा। इस एमओयू के तहत पीएनबी ई-डीलर स्कीम के जरिये इंडियन ऑयल के डीलरों को शून्य मार्जिन और बेहद कम या बिना किसी जमानत के कम ब्याज दर पर कर्ज मुहैया कराया जाएगा।
वित्तीय जरूरतों को समझते हुए और बैंकिंग सुविधाओं को बेहद आसान बनाते हुए पीएनबी इलेक्ट्रॉनिक डीलर फाइनेंस स्कीम खासतौर पर इंडियन ऑयल के डीलरों के लिए तैयार की गई है। इसके तहत अधिकतम दो करोड़ रुपये तक का कर्ज शून्य मार्जिन पर लिया जा सकता है। साथ ही उन डीलरों से किसी तरह की जमानत या रेहण नहीं लिया जाएगा जिनके पास पांच साल या उससे अधिक समय से इंडियन ऑयल की डीलरशिप है। मौजूदा समय में इंडियन ऑयल के साथ मान्य डीलरशिप करार रखने वाले स्वामित्व, साझेदारी, एलएलपी, कंपनी और ट्रस्ट सोशायटी आदि भी इस स्कीम का फायदा उठा सकते हैं।
इस समझौते के अवसर पर पंजाब नेशनल बैंक के मुख्य महाप्रबंधक, एमएसएमई डिवीजन, श्री राजीव पुरी ने कहा, “यह एमओयू इस मायने में बेहद महत्वपूर्ण है जब कोरोना महामारी के बाद बढ़ी हुई मांग को पूरा करने के साथ देश की वृद्धि में अपना योगदान देने के लिए एमएसएमई क्षेत्र आगे बढ़ रहा है। पीएनबी सबसे अधिक विविधता और जरूरत के मुताबिक उत्पादों के साथ अपनी श्रेणी में बेहतरीन ई-डीलर स्कीम के तहत इंडियन ऑयल के साथ मिलकर जो पेशकश कर रहा है वह डीलरशिप के वित्तीय ढांचा में नए बदलाव का साक्षी साबित हो सकता है। अपनी श्रेणी में पहला ऐसा करार है जो भविष्य में जरूरत के मुताबिक वित्तीय उत्पादों को पेश करने की राह खोलेगा और पीएनबी 2.0 नीति को अलग दिशा देगा। ”

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *