हरित कॉरिडोर से होगी राजधानी सुशोभित : धर्मेंद्र प्रधान

लंबी दूरी के आवागमन हेतु पर्यावरण अनुकूल विकल्पों को सशक्त बनाने की दिशा में पहल करते हुए पेट्रोलियम तथा प्राकृतिक गैस एवं इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भारत की लंबी दूरी तय करने वाली पहली सीएनजी बस का अनावरण करते हुए कहा कि सरकार राष्ट्रीय राजधानी के चारों ओर हरित कॉरिडोर बनाना चाहती है। श्री प्रधान ने कहा कि देश को गैस आधारित अर्थव्यवस्था बनाने तथा सीएनजी को लंबी दूरी के आवागमन हेतु सुलभ बनाने के लिए सरकार कृतसंकल्प है।उन्होंने कहा कि अन्य देशों की तरह भारत पर्यावरण को ज्यादा प्रदूषित करने वाला मुल्क नहीं है। श्री प्रधान ने बताया कि भारत उर्जा से जुड़ी अवसंरचनाओं में 100 अरब डॉलर का करने जा रहा है।

श्री प्रधान ने लंबी दूरी के आवागमन के लिए सीएनजी बसों के संचालन को, देशवासियों की जिंदगी को और आसान बनाने की दिशा में मील का पत्थर बताया।उन्होंने कहा कि भविष्य में सीएनजी आधारित उन्नत बसों का संचालन देहरादून,चण्डीगढ़,आगरा और जयपुर तक किया जायेगा। श्री प्रधान ने कहा कि अभी सीएनजी बसों का संचालन अभी प्रायोगिक स्तर पर किया जा रहा है परंतु बहुत जल्द भविष्य में इन्हें बड़े पैमाने पर संचालित किया जायेगा। गौरतलब है कि देशव्यापी स्तर पर भाजपानीत एनडीए सरकार के पिछले कार्यकाल में उज्ज्वला योजना के तहत् देशभर की गृहणियों को धुंआमुक्त ईंधन सुनिश्चित कराने हेतु धर्मेंद्र प्रधान द्वारा काफी सराहनीय कार्य किये गये श्री प्रधान के सार्थक प्रयासों का ही नतीजा है कि आज उज्ज्वला योजना अपने लक्ष्य के काफी नजदीक है। दिल्ली में स्वच्छ गैस आधारित ईंधन को अपनाने में काफी उत्साह देखने में आ रहा है। वर्तमान में दिल्ली-एनसीआर में 500 से ज्यादा सीएनजी केंद्र चल रहे हैं  तथा गैस आपूर्ति लाइन के जरिये लगभग 12 लाख गैस कनेक्शन प्रदान किये जा चुके हैं तथा एनसीआर में रोज 1000 से भी ज्यादा पीएनजी कनेक्शन लोगों को दिये जा रहे हैं।

सीएनजी बसों में संयोजित सीएनजी सिलिंडर लगाये गये हैं। यह सिलिंडर एक बार ईंधन से भर जाने के बाद लगभग 1000 किलोमीटर की दूरी तय करने तक बस को संचालित करने की क्षमता रखते हैं। यह परियोजना इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड(आईजीएल) द्वारा कार्यान्वित की गयी है। इसके लिए उच्च संरचनायुक्त श्रेणी-चार के संयोजित सिलिंडरों की व्यवस्था की गयी है। सरकार भविष्य में पेट्रोल, सीएनजी तथा एलएनजी की घर-घर डिलीवरी ‘ाुरू करने पर विचार कर रही है। इस अवसर पर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान सहित आईजीएल के अध्यक्ष गजेंद्र सिंह और प्रबंध निदेशक ईएस रंगनाथन सहित पेट्रोलियम विभाग तथा आईजीएल के अनेक वरिष्ठ अधिकारीगण तथा सीएनजी बस की निर्माता कंपनी के अधिकारीगण व अभियांत्रिक व कर्मचारी मौजूद रहे।

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *