पहली बार गणतंत्र दिवस पर पुरस्कृत हुई, उत्तराखण्ड की झांकी, ‘केदारखंड’

सी एम पपनैं

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस समारोह में, राजपथ पर, उत्तराखण्ड राज्य द्वारा, प्रदर्शित, ‘केदारखंड’ झांकी को, नई दिल्ली स्थित, राष्ट्रीय रंगशाला शिविर में, केंद्रीय राज्य मंत्री, किरेन रिजिजू द्वारा, तीसरे स्थान के लिये पुरस्कृत किया गया। उक्त पुरस्कार, उत्तराखण्ड राज्य प्रतिनिधि व झाकी टीम लीडर के एस चौहान द्वारा प्राप्त किया गया। 

राजपथ पर प्रदर्शित की गई प्रभावशाली झांकी का विषय ‘केदारखण्ड’ था। झांकी के अग्रभाग में राज्य पशु ‘कस्तूरी मृग‘, राज्य पक्षी ‘मोनाल’ एवं राज्य पुष्प ‘ब्रह्मकमल’ तथा पार्श्व भाग में केदारनाथ मन्दिर परिसर एवं ऋद्धालुओं को शोभायमान किया गया था।

उत्तराखण्ड राज्य द्वारा प्रदर्षित भव्य व मनोहारी झांकी, राज्य सूचना विभाग, उप-निदेशक, के.एस.चौहान के नेतृत्व में, ‘जय जय केदारा’ गीत-संगीत पर आधारित थी। 12 कलाकारों के दल मे सविना जेटली, मोहन चन्द्र पाण्डेय, विशाल कुमार, दीपक सिंह, देवेश पन्त, वरूण कुमार, अजय कुमार, रेनू, नीरू बोरा, दिव्या, नीलम तथा अंकिता नेगी मुख्य रूप मे शामिल थे।

राज्य गठन के बाद, उत्तराखण्ड द्वारा, अनेको बार, प्रतिभाग कर, विभिन्न विषयों पर आधारित, भव्य झाकिया, गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर, राजपथ पर प्रदर्षित की गई थी। वर्ष 2003 में, ‘फुलदेई’। 2005 में, ‘नंदा राजजात’। 2006 में, ‘फूलों की घाटी’। 2007 में, ‘कार्बेट नेशनल पार्क’। 2009 में, ‘साहसिक पर्यटन’। 2010 में, ‘कुम्भ मेला हरिद्वार’। 2014 मे, ‘जड़ी बूटी’। 2015 मे, ‘केदारनाथ’। 2016 में, ‘रम्माण’। 2018 में, ‘ग्रामीण पर्यटन’ तथा वर्ष 2019 में, ‘अनाशक्ति आश्रम (कौसानी प्रवास एवं अनाशक्ति)’ झांकियों का मनोहारी प्रदर्शन, राजपथ पर किया गया था। यह पहला अवसर है, जब, गणतंत्र दिवस 2021 पर विभिन्न राज्यों की झांकियों में उत्तराखण्ड की ‘केदारखण्ड’ झांकी को पुरस्कार के लिए चुना गया। 

सूचना महानिर्देशक डॉ.मेहरबान सिंह बिष्ट द्वारा अवगत कराया गया, झांकी के चयन हेतु, रक्षा मंत्रालय, में आयोजित पांच स्तर की वार्ता में, विभाग के उपनिदेशक, के.एस.चौहान द्वारा झांकी के थीम, डिजाइन, मॉडल तथा संगीत आदि का प्रभावशाली प्रस्तुतिकरण करने के बाद, राज्य की झांकी को गणतंत्र दिवस परेड-2021 में अन्तिम रुप से चयनित किया गया था। सबद्ध विभाग द्वारा, 31 दिसम्बर, 2020 को आदेश जारी किया गया था। प्राप्त सूचना के मुताबिक, झांकी डिजाइन चयन प्रक्रिया मे, इस वर्ष 32 राज्य एवं केन्द्र शासित प्रदेशों ने प्रतिभाग किया था। इनमे से मात्र, 17 राज्यों का ही चयन किया गया था।

मुख्यमंत्री उत्तराखंड, त्रिवेन्द्र सिंह रावत द्वारा प्रसन्नता व्यक्त करते हुए, राज्य की झांकी को पुरस्कार के लिए चुने जाने पर, प्रदेश वासियों को बधाई दी है। साथ ही, सचिव सूचना दिलीप जावलकर, सूचना महानिदेशक, डॉ मेहरबान सिंह बिष्ट, झाकी टीम लीडर व उप-निदेशक सूचना के एस चौहान, झांकी निर्मित करने वाले शिल्पियों तथा झांकी में सम्मलित सभी कलाकारों को बधाई प्रेषित की गई है। 
——————–

Share This Post:-
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *